DA Image
6 अप्रैल, 2020|4:06|IST

अगली स्टोरी

भारत के उद्योग और व्यापार को कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं: एसोचैम

mother-son investigation report corona not confirmed

उद्योग मंडल एसोचैम ने कहा है कि औषधि समेत भारतीय उद्योग और व्यापार जगत के तमाम क्षेत्र आपूर्ति श्रृंखला पर प्रभाव पड़े बिना कोरोना वारस से उत्पन्न स्थिति से निपटने को तैयार हैं। उसने यह भी कहा कि इससे निकट भविष्य में कोई बड़ी चुनौती नहीं दिखाई दे रही।

एसोचैम के महासचिव दीपक सूद ने कहा कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है। भारत सरकार और उद्योग एक-दूसरे के साथ मिलकर सक्रिय रूप से इससे निपटने को लेकर काम कर रहा है।  उन्होंने कहा, ''यह सही है कि उच्च एकीकृत अर्थव्यवस्था में वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला एक वास्तविकता है, लेकिन अस्थायी बाधाओं से निपटेन के लिये पर्याप्त गुंजाइश बनी हुई है।"

सूद ने कहा, ''भारत सरकार और उद्योग कोरोना वायरस का विश्व अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले असर के कारण उसका देश में आर्थिक, तकनीकी या अनुबंध पर पड़ने वाले प्रभाव से निपटने के लिये एक-दूसरे के साथ मिलकर अति सक्रियता के साथ काम कर रहे हैं।" उन्होंने कहा कि अबतक भारतीय उद्योग के लिए आपूर्ति श्रृंखला में कोई बड़ी बाधा नहीं आई है और निकट भविष्य में कोई चुनौतियां भी नहीं दिख रही।

सूद ने कहा कि भारत औषधियों में कच्चे माल के रूप में उपयोग होने वाले सक्रिय रसायनों (एपीआई) का 60 से 70 प्रतिशत चीन से आयात करता है। लेकिन कई घरेलू और वैश्विक कंपनियां हैं जिन्होंने भारत में ऐसे रसायनों के विनिर्माण संयंत्र स्थापित कर रखे हैं। स्थिति के अनुसार उन्हें देश में उत्पादन बढ़ाने के लिये प्रोत्साहित किया जा सकता है।

एसोचैम ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे उद्योग के लिए फिलहाल कोई चुनौती नहीं है, लेकिन ताइवान जैसे स्रोतों से वैकल्पिक आपूर्ति की संभावना तलाशी जा सकती है। विभिन्न रिपोर्ट के अनुसार चीन में फैले कोरोना वायरस से अबतक 2,200 लोगों की मौत हुई है। वहीं पूरी दुनिया में इससे करीब 77,000 लोग प्रभावित हुए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:No need for panic for industry trade says Assocham on corona virus impact