DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टॉप 10 में से 9 कंपनियों का मार्केट कैप 84,354 करोड़ रुपए घटा, TCS को सबसे ज्यादा नुकसान

TATA Consultancy Services

सेंसेक्स की शीर्ष दस कंपनियों में से नौ के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह संयुक्त रूप से 84,354.1 करोड़ रुपये की कमी आई। इसमें टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) को सबसे अधिक नुकसान उठाना पड़ा। शीर्ष 10 कंपनियों में से केवल रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की बाजार हैसियत में वृद्धि देखने को मिली।

आरआईएल का एमकैप शुक्रवार को समाप्त सप्ताह में 72,153.08 करोड़ रुपये बढ़कर 8,09,755.16 करोड़ रुपये पहुंच गया। कंपनी की ओर से वार्षिक आम बैठक में निवेशकों के अनुकूल प्रस्तावों की घोषणा से उसके बाजार पूंजीकरण में यह वृद्धि देखने को मिली है।

टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (एचयूएल), एचडीएफसी, इन्फोसिस, आईटीसी, कोटक महिंद्रा बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एसबीआई के बाजार पूंजीकरण में कमी दर्ज की गयी। टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 30,807.1 करोड़ रुपये घटकर 8,11,828.43 करोड़ रुपये रहा।

एचडीएफसी की बाजार हैसियत 19,495.4 करोड़ रुपये घटकर 3,62,123.92 करोड़ रुपये रह गयी। एचडीएफसी बैंक का बाजार मूल्याकंन भी 15,065.8 करोड़ रुपये की कमी के साथ 6,08,826.25 करोड़ रुपये रह गया। इसी प्रकार, इन्फोसिस का एमकैप 6,700.27 करोड़ रुपये की गिरावट के साथ 3,32,672.51 करोड़ रुपये, कोटक महिंद्रा का बाजार मूल्यांकन 6,525.48 की कमी के साथ 2,86,340.99 करोड़ रुपये पर रहा।

एचयूएल की बाजार हैसियत 2,954.95 करोड़ रुपये कम होकर 3,95,335.97 करोड़ रुपये और आईटीसी का बाजार पूंजीकरण 1,657.41 करोड़ रुपये घटकर 3,10,488.97 करोड़ रुपये रह गया। आईसीआईसीआई बैंक का बाजार पूंजीकरण 790.71 करोड़ रुपये की गिरावट के साथ 2,70,569.37 करोड़ रुपये और एसबीआई का एमकैप 356.99 करोड़ रुपये की कमी के साथ 2,59,661.57 करोड़ रुपये रह गया।

शीर्ष दस कंपनियों की रैंकिंग में टीसीएस शीर्ष पर रही। इसके बाद आरआईएल, एचडीएफसी बैंक, एचयूएल, एचडीएफसी, इन्फोसिस, आईटीसी, कोटक महिंद्रा बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एसबीआई का स्थान आता है। पिछले सप्ताह सेंसेक्स में 231.58 अंक की गिरावट दर्ज की गयी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nine of top 10 firms lose Rs 84354 crore in market valuation