ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessNew rule of NPS is Diwali gift from Modi government know who how and how much it will benefit

NPS का नया नियम मोदी सरकार की तरफ से दिवाली का गिफ्ट, जानें किसे, कैसे और कितना पहुंचाएगा फायदा

NPS New Rules: यह मोदी सरकार का दिवाली गिफ्टी है। एनपीएस के जरिए 60 साल के बाद 75 साल की आयु तक हर महीने मोटा-मोटा 10000 रुपये का फायदा होगा। दूसरी ओर जमा-पूंजी भी 2.5 करोड़ हो गई।

NPS का नया नियम मोदी सरकार की तरफ से दिवाली का गिफ्ट, जानें किसे, कैसे और कितना पहुंचाएगा फायदा
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 31 Oct 2023 11:39 AM
ऐप पर पढ़ें

पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (PFRDA) ने राष्ट्रीय पेंशन योजना (NPS) से जुड़े कुछ नियमों में अहम बदलाव किए हैं। अब 60 फीसद तक जमा रकम मासिक/तिमाही/छमाही या सालाना निकाल सकते हैं। यह पहले सालाना या एकमुश्त निकाला जा सकता था। इस बदलाव के पीछे की वजह यह है कि एनपीएस रिटायरमेंट के बाद लोगों की मासिक जरूरतों को बेहतर तरीके से पूरी करे। 

इससे किसे फायदा होगा और कैसे

पर्सनल फाइनेंस एडवाइजर सीए मनीष गर्ग ने इसे उदाहरण के साथ इस तरह समझाया। उन्होंने बताया, " मान लीजिए 60 साल की आयु वाले व्यक्ति के पास पेंशन का ऑप्शन नहीं था। रिटायरमेंट पर उसके पास कुल फंड डेढ़ करोड़ का हो गया। इसको देखते हुए किसी ने उन्हें वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (30 लाख रुपये तक) में पैसा निवेश करने की सलाह दी, जहां से उसे लगभग 8% ब्याज मिलता। यानी साल के उसे 240000 रुपये इससे ब्याज मिलते। पोस्ट ऑफिस एमआईएस/बैंक एफडी आदि में जमा शेष 1.20 करोड़ की राशि पर उसे 7.4% से 7.5% तक ब्याज मिलता। यानी यहां से करीब करीब 9 लाख रुपये ब्याज मिलते। कुल मिलाकर उसे सालाना 1140000 रुपये ब्याज के रूप में मिलते और यह टैक्सेबल है। यानी इस पर उसे नए टैक्स रिजीम में करीब 65500 रुपये टैक्स चुकाने पड़ते और ब्याज से नेट इनकम 1074500 के आसपास रह जाती। यानी हर महीने के खर्च के लिए उसे केवल 89541 रुपये के करीब मिलते। इसके साथ ही 15 साल बाद भी उसका मूलधन यानी 1,50,00,000 रुपये वहीं का वहीं रह जाता।"

यह भी पढ़ें: NPS New Rules: अगर पेनी ड्रॉप सत्यापन फेल होता है तो क्या होगा? ये हैं वेरीफिकेशन असफल होने के प्रमुख कारण

एनपीएस का नया नियम कैसे दिलाएगा फायदा: सीए मनीष गर्ग कहते हैं कि अब मान लीजिए वही व्यक्ति 60 साल की आयु तक एनपीएस के जरिए 1.50 करोड़ का फंड जुटा लेता है। इसका 60 फीसद यानी 90 लाख रुपये 75 साल की उम्र तक सिस्टमेटिक तरीके से नए नियम के अनुसार निकालता है तो इससे उसकी मासिक जरूरतों के लिए करीब 1183000 (10 फीसद ब्याज के साथ) रुपये मिलेंगे। यह पूरी तरह टैक्स फ्री अमाउंट है। यानी 15 साल तक करीब एक लाख रुपये महीना हर महीने हाथ में आएंगे। दूसरी ओर 40 फीसद एन्युटी भी सालाना 10 पर्सेंट बढ़ता रहा तो यह 15 साल में 25063489 रुपये हो जाएंगे।

एनपीएस से डबल फायदा: गर्ग ने कहा यह मोदी सरकार का दिवाली गिफ्टी है। एनपीएस के जरिए 60 साल के बाद 75 साल की आयु तक हर महीने मोटा-मोटा 10000 रुपये का फायदा होगा। क्योंकि यहां टैक्स नहीं लगा। दूसरी ओर हमारी जमा-पूंजी भी डेढ़ करोड़ की जगह करीब 2.50 करोड़ रुपये हो जाएगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें