अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

म्युचुअल फंड इनवेस्टमेंट्स को आधार से लिंक करना हुआ जरूरी

Aadhar card

अगर आपने अपने आधार को हल्के में लिया है तो आनेवाले दिनों में आपकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। म्युचुअल फंड में अगर आपका निवेश है तो वक्त रहते आधार से लिंक कर दीजिए नहीं तो आप उसमें कोई लेनदेन नहीं कर पाएंगे। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) ने सभी म्यूचुअल फंड निवेशकों को यह निर्देश दिया है कि 31 मार्च 2018 तक अपने म्यूचुअल फंड एकाउंट को पैन और आधार से लिंक करें।

आधार से लिंक नहीं होने पर नहीं हो पाएगा ट्रांजैक्शन

बीएसई ने यह साफ कर दिया है कि 14 फरवरी तक निवेश करने वाले निवेशक अपने म्युचुअल फंड फोलियो को 31 मार्च 2018 तक लिंक करा सकते हैं। जो भी निवेशक ऐसा नहीं करेंगे उनके म्युचुअल फंड फोलियो सीज कर दिए जाएंगे। इसके बाद उसमें किसी तरह का कोई ट्रांजैक्शन नहीं हो पाएगा।

म्यूचुअल फंड फोलियो को ऐसे करें आधार से लिंक
आप तीन तरह म्युचुअल फंड फोलियो को आधार से लिंक कर सकते हैं। इसका एक आसान रास्ता है सीएएमएस। सीएएमएस 15 म्युचुअल फंड के लिए सुविधाएं देता है। सीएमएएस के जरिए म्यूचुअल फंड से आधार को लिंक करने के लिए वहां क्लिक करें। क्लिक करने के बाद आपको अपना पैन भरना है। पैन भरने के बाद एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आधार, मोबाइल नंबर, जन्म की तारीख सहित कुछ दूसरी जानकारियां भरने के बाद रजिस्टर्ड नंबर पर एक ओटीपी आएगा। ओटीपी भरने के बाद आपको यह एसएमएस आएगा कि आपका म्यूचुअल फंड फोलियो आधार से लिंक हो गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mutual Fund Investments Need to Link to the Aadhar