DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जल्द 45000 को पार कर सकता है Sensex : मॉर्गन स्टैनले

photo - twitter

नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार के 2014 में सत्ता में आने के बाद देश के शेयर बाजार के निवेशकों की पूंजी 75.25 लाख करोड़ रुपये बढ़ी है। इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 61 प्रतिशत चढ़ा है। अमेरिका की फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी मॉर्गन स्टेनले के अनुसार, भारतीय शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। यह जून-2020 तक 45,000 के स्तर को पार कर सकता है। वहीं निफ्टी भी 13500 के स्तर की छू सकता है। 

साल 1980 के बाद से 11 चुनावी नतीजों के दिन में से आठ मौकों पर सेंसेक्स ने निवेशकों को सकारात्मक रिटर्न दिया है। साल 2014 में सेंसेक्स ने 30% की तेजी दिखाई थी। साल 2009 में 81%, 2004 में 13% और 1999 में 64% की छलांग लगाई। तीन मौकों पर सेंसेक्स निराश किया है। 1998 में सेंसेक्स 17% टूटा था। 1996 और 2019 में भी तेजी के बाद गिरावट आई।

मॉर्गन स्टेनले के मुताबिक अगले एक साल की बात करें तो डोमेसिटक लेवल पर ज्यादा चिंता नहीं दिख रही है लेकिन ग्लोबल स्तर पर कुछ फैक्टर बाजार के लिए चिंता पैदा कर सकते हैं। इनमें ट्रेड वार, क्रूड की कीमतें और यूएस फेड लिए कई कठिन निर्णय शामिल हो सकते हैं। हालांकि विदेशी निवेशकों के निवेश को लेकर चिंता नहीं दिख रही है।
चुनावी नतीजों के बाद शेयर बाजार में फिर तेजी, सेंसेक्स 38,939 तो निफ्टी 11 हजार के पार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:morgan stanley said that sensex will reach at 45000 level by June 2020