ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसप्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के तहत सभी युवाओं को हर महीने ₹3,400 देगी मोदी सरकार, यह दावा फर्जी है, न करें रजिस्ट्रेशन 

प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के तहत सभी युवाओं को हर महीने ₹3,400 देगी मोदी सरकार, यह दावा फर्जी है, न करें रजिस्ट्रेशन 

Fact Check: पिछले कई दिनों से प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना का मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा  किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के तहत सभी युवाओं को हर माह ₹3,400 दिए जाएंगे।

प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के तहत सभी युवाओं को हर महीने ₹3,400 देगी मोदी सरकार, यह दावा फर्जी है, न करें रजिस्ट्रेशन 
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 02 Dec 2022 06:26 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Viral Message: आज कल सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे Whatsapp, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम आदि पर मोदी सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से मिलते-जुलते नाम या प्रधामंत्री के नाम पर कई योजनाओं के मैसेज वायरल हो रहे हैं। पिछले कई दिनों से प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना का मैसेज वायरल हो रहा है। इस मैसेज में दावा  किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के तहत पंजीकरण करने पर सभी युवाओं को प्रति माह ₹3,400 दिए जाएंगे। 

अगर आपके मोबाइल फोन में यह मैसेज आया है तो कहीं फार्वर्ड न करें और न ही इसमें दिए गए लिंक को टैप करें। लिंक टैप करके अगर आपने अपनी जानकारी दी तो आप मुसीबत में फंस सकते हैं। क्योंकि यह दावा फर्जी है। केंद्र सरकार ने ऐसी कोई योजना नहीं चलाई है।

क्या है वायरल मैसेज में

वायरल मैसेज में लिखा गया है, " सरकार का बड़ा फैसला। सभी युवाओं को मिलेंगे 3400 रुपये हर महीने। मैंने तो 3400 रुपये प्रधामंत्री ज्ञानवीर योजना से प्राप्त कर लिए, आप भी अभी रजिस्ट्रेशन करें।"
इसके आगे यह भी लिखा है कि प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के लिए रजिस्ट्रेशन हो रहा है, इस योजना के अंतर्गत सभी युवाओं को 3400 रुपये की मदद राशि मिलेगी। नीचे दी गई लिंक से अभी रजिस्ट्रेशन करें। यह था फर्जी दावे का मजमून। इस दावे को लेकर PIB FactCheck ने भी लोगों को अगाह करते हुए ट्ववीट किया है।

यह भी पढ़ें: Fact Check: क्या ₹500 का यह नोट नकली है, जिसमें हरी पट्टी आरबीआई गवर्नर के सिग्नेचर के पास नहीं है?

ऐसी किसी भ्रामक खबर की यहां करें शिकायत

सरकार से जुड़ी कोई खबर सच है या फर्जी, यह जानने के लिए PIB Fact Check की मदद ली जा सकती है। कोई भी व्यक्ति PIB Fact Check को संदेहात्मक खबर का स्क्रीनशॉट, ट्वीट, फेसबुक पोस्ट या यूआरएल वॉट्सऐप नंबर 918799711259 पर भेज सकता है या फिर pibfactcheck@gmail.com पर मेल कर सकता है।

बचने के लिए इन बातों का ध्यान रखें

  • किसी भी ऐसे लिंक पर क्लिक करने से पहले बार-बार सोचें। अगर इसमें आपको कुछ भी संदिग्ध लगे तो उस पर बिल्कुल भी क्लिक न करें। साथ ही आप साइबर सेल को भी जरूर सूचित करें।
  • अपनी जानकारी संभालकर रखें। अगर कंप्यूटर / स्मार्टफोन में इस तरह की जानकारी है तो उसे पासवर्ड या पैटर्न से सुरक्षित करें। सामान्य पैटर्न को साइबर हैकर आसानी से तोड़ लेते हैं।
  • फोन को लॉक रखें। अगर आपका डिवाइस खो जाता है तो उस स्थिति में आप अपने डाटा को घर बैठे मिटाने जैसी कुछ व्यवस्था जरूर बनाएं, ताकि साइबर जालसाजों से सुरक्षित रह सकें।