DA Image
29 जनवरी, 2020|10:38|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिटेलर्स ने Samsung-xiaomi-OnePlus को दी धमकी, कहा- मोबाइल बेचना कर देंगे बंद

mobile-phone-addiction jpg

मोबाइल फोन रिटेलर्स बड़ी स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों को ऑनलाइन भारी डिस्काउंट देने पर नियंत्रण करने के लिए दबाव बना रहे हैं। सेलफोन रिटेलर्स एसोसिएशन के मुताबिक ऑनलाइन भारी डिस्काउंट ऑफर करने से ऑफलाइन की सेल बहुत अधिक प्रभावित हो रही है, इसके कारण बीते साल हजारों की संख्या में सेलफोन बेचने वाली दुकानें बंद हुई हैं। रिटेलर्स के मुताबिक अगर ऐसा ही चलता रहा तो वह इन कंपनियों के मोबाइल बेचना बंद कर देंगे। 

सेलफोन रिटेलर्स की एसोसिएशन ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर्स एसोसिएशन (AIMRA) ने शियोमी, सैमसंग और वनप्लस को ऑनलाइन डिस्काउंट नियंत्रित करने के लिए कह रहे हैं। अगर ऐसा नहीं होता तो अंतर को घटाकर ऑनलाइन प्राइस पर बेचने और ब्रांड को बॉयकॉट करने की धमकी दे रहे हैं। वह इन ब्रांड्स को फोन रिटेल में बेचने से मना कर रहे हैं। 

एआईएमआरए के अध्यक्ष अरविंदर खुराना के मुताबिक अब समय आ गया है कि ब्रांड्स इस मुद्दे को गंभीरता से ले वर्ना रिटेलर्स और एसोसिएशन इन ब्रांड्स का बॉयकॉट करेगी। उन्होंने कहा कि वह दबाव नहीं बना रहे हैं लेकिन अगर ऐसा ही चलता रहा तो वह अपनी मांगों पर अड़े रहेंगे। 

बीते महीने एआईएमआरए ने पत्र लिखकर कंपनियों को कहा था कि वह ऑनलाइन कीमतों पर मोबाइल बेच देगी और बैलेंस डिस्ट्रीब्यूटर से रिकवर करेगी या इन कंपनियों के प्रोडक्ट नहीं बेचेगी। तब ओप्पो और विवो ने एडवाइजरी जारी कर रिटलेर्स को भरोसा दिलाया कि वह ऑनलाइन और ऑफलाइन के लिए के लिए एक साथ प्रोडक्ट लॉन्च करेगी और उनकी कीमतें भी एक होंगी। रियलमी ने भी इसी बात का भरोसा जताया। एसोसिएशन के मुताबिक शियोमी, सैमसंग और वनप्सल की तरफ से इस बारे में कुछ भी नहीं कहा और न ही कोई भरोसा दिया। 

बीते हफ्ते एसोसिएशन के 20,000 रिटेलर्स और डिस्ट्रीब्यूटर्स नई दिल्ली में मिले और ब्रांड्स पर उनकी मांग मानने को लेकर दबाव बनाया। मोबाइल फोन रिटेलर्स ने विरोध जताने के लिए एक दिन के लिए शटर्स भी बंद करे। लेटर के मुताबिक नवंबर और दिसंबर 2019 का बिजनेस बीते 15 साल में सबसे खराब रहा। खुराना के मुताबिक हजारों की संख्या में सेलफोन स्टोर्स बीते एक साल में बंद हुए हैं। एसोसिएशन के ई-कॉमर्स कंपनियों के डिस्काउंट का दिवाली से विरोध कर रही है। 

अमेरिकी मार्केट ट्रैकर कंपनी इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन के मुताबिक भारत में 45 फीसदी स्मार्टफोन ऑनलाइन बिक रहे हैं। इनके मुताबिक जुलाई से सितंबर में सेल ई-कॉमर्स के जरिए अधिक हुई और ऑफलाइन सेल बीते साल की तुलना में इसी समय में 2.6 फीसदी गिरी है। 

मौजूदा ई-कॉमर्स पॉलिसी एक्सक्लूजिव पर प्रतिबंध लगाती है लेकिन ब्रांड्स अभी भी एक्सक्लूजिव मॉडल ऑनलाइन लेकर आ रहे हैं। एसोसिएशन सरकार से लूपहोल्स को बंद करने और पॉलिसी को रेग्युलेट बनाने के लिए एक बॉडी बनाने की मांग कर रहे हैं।
इस एफडी पर मिलता है ज्यादा रिटर्न, निवेश की योजना बना रहें तो जान लें इसके रिस्क

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mobile phone retailers threaten smartphone companies to boycott selling brands unless stop online discounting