मेगा शॉपिंग फेस्टिवल से हस्तशिल्प उद्योग को बढ़ावा मिलेगा - mega shoping festival se hastashilp udyog ko badhaava milega DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेगा शॉपिंग फेस्टिवल से हस्तशिल्प उद्योग को बढ़ावा मिलेगा

Discounts on online Shopping (Symbolic Image)

आर्थिक सुस्ती दूर करने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को सालाना शॉपिंग फेस्टिवल आयोजित करने का ऐलान किया। इसके पीछे का उद्देश्य हस्तशिल्प उद्योग में लगे लाखों कारीगरों और कारोबारियों को कारोबार का बड़ा मंच देना है।

विशेषज्ञों का कहना है कि सरकार की कोशिश ऐसे आयोजन के जरिये छोटे उद्योगों के उत्पादों, कारोबारियों और उसके ग्राहकों को एक मंच पर लाने की है। इसमें विदेशी कारोबारियों और सैलानियों को भी एक मंच पर भारत के विविध उत्पाद खरीदने को मिलेंगे और ब्रांडिंग के जरिये पर्यटक को लुभाया जाएगा।

अगर देश में भी शॉपिंग फेस्टिवल शुरू किया गया तो स्थानीय उत्पादों की मार्केटिंग दुनियाभर में किए जाने के रास्ते खुल जाएंगे। उपभोक्ता मामलों के विशेषज्ञ बिजॉन मिश्रा का कहना है कि ऐसे आयोजनों से देश के उत्पादों की बिक्री बढ़ेगी, जिससे उस इलाके की आर्थिक स्थिति सुधरने के साथ अर्थव्यवस्था को भी फायदा होगा। इनमें बड़े-बड़े ब्रांड के उत्पादों के साथ एक ही छत के नीचे लाकर स्थानीय कारीगरों को भी अपनी कारीगरी दिखाने का मौका मिलेगा।

शंघाई शॉपिंग फेस्टिवल

चीन पिछले 12 साल से शंघाई शॉपिंग फेस्टिवल आयोजित करा रहा है। पिछले साल यह आयोजन 45 दिन तक चला, जिसमें 20 हजार रिटेल आउटलेट शामिल हुए। 2018 में इसमें कला, संस्कृति, खरीदारी और मनोरंजन से जुड़े कार्यक्रम आयोजित हुए। फेस्टिवल में ब्रिटेन, जर्मनी, इटली, स्पेन, फिनलैंड, स्वीडन,

ऑस्ट्रेलिया, थाईलैंड और जापान शामिल हुआ।
दुनिया भर के लोग खरीदारी करने आएंगे 
मिश्रा के मुताबिक, फेस्टिवल में दुनियाभर से लोग खरीदारी करने के लिए आएंगे तो पर्यटन और होटल उद्योग को भी फायदा मिलेगा। दुबई, शंघाई के अलावा अमेरिकी शहरों में भी ऐसे आयोजन होते हैं। ये उद्योग विदेशी खरीदारों से तो लाभान्वित होगी, देश के अलग हिस्सों से भी खरीदार पहुंचेंगे। 

आयोजनों का प्रबंधन बड़ी चुनौती 
विशेषज्ञों का कहना है कि देश में ऐसे आयोजनों को कराना चुनौतीपूर्ण है। दिल्ली में होने वाले ऑटो एक्सपो और ट्रेड फेयर का हवाला देते हुए जानकार कहते हैं कि उनकी अव्यवस्थाओं को देखते हुए ज्यादातर लोग उनमें जाने से कतराने लगे हैं।
 
सोने-चांदी के दामों में गिरावट, खरीदने का अच्छा समय- नहीं तो दिवाली तक हो जाएगा इतना महंगा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mega shoping festival se hastashilp udyog ko badhaava milega