DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिजनेस  ›  सेंसेक्स में 879 अंकों की छलांग के साथ शेयर बाजार बंद, अनलॉक के पहले दिन 9,826 पर लॉक हुआ Nifty

बिजनेससेंसेक्स में 879 अंकों की छलांग के साथ शेयर बाजार बंद, अनलॉक के पहले दिन 9,826 पर लॉक हुआ Nifty

लाइव हिन्दुस्तान एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Drigraj Madheshia
Mon, 01 Jun 2020 03:55 PM
सेंसेक्स में 879 अंकों की छलांग के साथ शेयर बाजार बंद, अनलॉक के पहले दिन  9,826 पर लॉक हुआ Nifty

वैश्विक बाजारों में तेजी, दक्षिण पश्चिम मॉनसून के केरल में दस्तक देने और  कारोबारी गतिविधिां धीरे-धीरे खुलने से आज शेयर बाजार में जबर्दस्त रौनक रही। लीवाली के दम पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज 879.42 अंकों की छलांग के साथ 33,303.52 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं अनलॉक के पहले दिन निफ्टी भी 245.85 अंकों की बढ़त के साथ के स्तर पर 9,826.15 लॉक हुआ। सेंसेक्स आज दिन के उच्च स्तर 33,673.83 को छूकर लौटा तो वहीं निफ्टी भी 9,931.60 के स्तर तक पहुंचा।  सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो आज सभी सेक्टरों तेजी रही। मेटल सेक्टर में जबरदस्त खरीदारी देखने को मिली।

इंडेक्स बढ़त % में
पीएसयू बैंक 7.57
निफ्टी बैंक 3.43
निफ्टी ऑटो 3.23
फाइनेंशियल सर्विसेज 3.64
मीडिया 3.52
मेटल 3.86
प्रइवेट बैंक 3.23
रियलिटी 3.05
आईटी 2.12
फार्मा 0.34
एफएमसीजी 0.94

3:07 बजे: सेंसेक्स अपने ऊपरी स्तर से अब करीब 300 अंक फिसल चुका है। बाजार में तेजी कायम है और सेंसेक्स 927.71 अंक ऊपर 33,351.81 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी अब 9900 के नीचे आ गया है। निफ्टी अब 260.75 (2.72%) के स्तर पर कारोबार कर रहा है। एक समय यह दिन के उच्चतम स्तर 9,931.60 पर पहुंच गया था।

डॉलर के मुकाबले रुपया आठ पैसे मजबूत

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया प्रारंभिक आंकड़ों के हिसाब से आठ पैसे मजबूत होकर 75.54 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। घरेलू अर्थव्यवस्था को फिर से खोलने की सरकार की योजना से धारणा को बल मिला है।  बाजार सूत्रों के अनुसार विदेशी निधियों का निवेश में तेजी आने, अमेरिकी डॉलर के कमजोर होने और घरेलू शेयर बाजार में तेजी के रुख से भी निवेशकों का विश्वास बढ़ा। अंतर-बैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया 75.32 पर खुला। बाद में यह कुछ टूटा पर कारोबार के अंत में आठ पैसे की तेजी के साथ 75.54 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया शुक्रवार को 75.62 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। कारोबार के दौरान रुपया ऊंचे में 75.29 और नीचे में 75.60 तक गया। 

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: लॉकडाउन 5.0 के पहले दिन सोने की कीमतों में बड़ा बदलाव, चांदी पहुंची 50000 के पार

1:10 बजे: शेयर बाजार में रैली जारी है। सेंसेक्स 1184.14 अंक यानी 3.65% उछल कर 33,608.24 के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं निफ्टी भी 333.45 (3.48%) अंकों की छलांग लगाते हुए 9,913.75 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी टॉप गेनर की लिस्ट में 11.05 फीसद की उछाल के साथ बजाज फाइनेंस पहले नंबर पर है। वहीं बजाज फाइनेंस सर्विस 9.17 फीसद चढ़कर दूसरे नंबर पर है। इनके अलावा TITAN में 9.03% और     TATASTEEL में 7 फीसद की तेजी देखने को मिल रही है वहीं  M&M के स्टॉक भी 6.57 ऊपर कारोबार कर रहे हैं। जहां तक नफिटी लूजर की बात करें तो डॉक्टर रेड्डी लैब्स, सिप्ला, इन्फ्राटेल, अल्ट्राटेक सीमेंट में बिकवाली देखी जा रही है।

12:00 बजे: शेयरों में 19.95% की छलांग देखी जा रही है। शेयर बाजार में जोरदार खरीदारी की वजह से सेंसेक्स में 1076.65 अंकों यानी 3.32% की उछाल देखी जा रही है। सेंसेक्स 33,500.75 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी 303.30 (3.17%) अंकों की छलांग लगाकर 9,883.60 के स्तर पर पहुंच गया है।

10:03 बजे: शेयर बाजार में जबरदस्त रौनक दिख रही है। सेंसेक्स और निफ्टी में जोरदार खरीदारी का रुख है। सेंसेक्स 927.39 अंक यानी 2.86% की उछाल के साथ 33,351.49 के स्तर पर पहुंच गया है वहीं निफ्टी भी 264.25 (2.76%) अंकों की उछाल के साथ 9,844.55 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी 50 के 47 स्टॉक इस समय हरे निशान पर कारोबार कर रहे हैं। वहीं सेंसेक्स में सनफार्मा लाल निशान पर कारोबार कर रहा है तो 29 शेयर हरे निशान पर हैं। 

आईडीबीआई बैंक के शेयर चमके

आईडीबीआई बैंक के नतीजों के बाद इसके शेयर सोमवार को उड़ान भर रहे हैं। कंपनी के शेयर 20 फीसद तक उछल चकु हैं। कंपनी ने मार्च में समाप्त तिमाही में 135 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है। दोपहर 12 बजे इसके शेयर 24.35 रुपये पर कारोबार कर रहे थे। शेयरों में 19.95% की छलांग देखी जा रही है।

यह भी पढ़ें: मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में 15 साल की सबसे बड़ी गिरावट, मई में रिकॉर्ड स्तर पर हुई छंटनी

शुरुआती कारोबार में ही सेंसेक्स करीब 800 अंक उछल कर  33,217.44 के स्तर पर कारोबार कर रहा है वहीं निफ्टी 230.15 (2.4%) अंक उछल कर 9,810.45 के स्तर पहुंच गया है। आज निफ्टी बैंक 3.74 फीसद, ऑटो 2.35 फीसद, फाइनेंशियल सर्विसेज 3.46 फीसद, एफएमसीजी 1.86 फीसद ऊपर कारोबार कर रहे हैं। इनके अलावा आज सभी सेक्टर हरे निशान पर हैं। 

sensex news  sensex today  nifty 50  nifty bank  nifty   share price  nifty option chain nifty index

केंद्र सरकार ने पांचवें चरण में लॉकडाउन खोलने के लिहाज से दायरा बढ़ाते हुए कर्फ्यू के घंटों में ढील दे दी है। इसका असर घरेलू शेयर बाजार पर भी देखने को मिल रहा है। इस महीने के पहले कारोबारी दिन को शेयर बाजार मजूबती के साथ खुले। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में लीवाली देखने को मिल रही है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 481 अंकों की उछाल के साथ 32906 के स्तर पर खुला तो वहीं निफ्टी भी आज दिन के कारोबार की शुरुआत हरे निशान के साथ की।बता दें   गृह मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि 'अनलॉक-1 की शुरुआत आठ जून से होने जा रही है। इस दौरान 25 मार्च से लागू लॉकडाउन में काफी ढील दी जाएगी। आठ जून से मॉल्स, रेस्तरां और धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दी गई है। हालांकि, कोविड-19 नियंत्रण वाले क्षेत्रों में 30 जून तक कड़े प्रतिबंध जारी रहेंगे। 

इस सप्ताह वृहद आर्थिक आंकड़ों, वैश्विक रुख से तय होगी बाजार की दिशा

देश के शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह वृहद आर्थिक आंकड़ों, वैश्विक संकेतों तथा कोविड-19 से जुड़े घटनाक्रमों से तय होगी। विशेषज्ञों ने यह राय व्यक्त की है।  इस बीच, अर्थव्यवस्था की चरणबद्ध तरीके से शुरुआत हो चुकी है। इसका भी बाजार के रुख पर असर पड़ेगा।  जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, ''वैश्विक रुख के अनुरूप चरणबद्ध तरीके से अर्थव्यवस्था को खोलने से कारोबारी धारणा मजबूत होगी।

बेरोजगारी की मुख्य वजह लॉकडाउन है, आर्थिक संकट नहीं

इसके अलावा इससे रोजगार और आमदनी के अवसर भी उपलब्ध होंगे। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि बेहद उच्चस्तर पर पहुंची बेरोजगारी की मुख्य वजह लॉकडाउन है, आर्थिक संकट नहीं।    उन्होंने कहा कि ऐसे में हम उम्मीद कर सकते हैं कि अर्थव्यवस्था खुलने के साथ रोजगार और आमदनी में भी इजाफा होगा।  विश्लेषकों का मानना है कि शेयर बाजार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर के आंकड़ों पर भी प्रतिक्रिया देंगे। ये आंकड़े शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद आए हैं। बीते वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही में जीडीपी की वृद्धि दर घटकर 3.1 प्रतिशत रह गई वहीं पूरे वित्त वर्ष की वृद्धि दर 4.2 प्र्रतिशत रही है, जो इसका 11 साल का निचला स्तर है।

संबंधित खबरें