Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़luxury hotel company juniper hotels ipo gmp subscription status to review check detail - Business News India

ग्रे मार्केट में इस IPO को मिले निगेटिव संकेत, आपने भी लगाया है दांव?

जुनिपर होटल्स के आईपीओ को ग्रे मार्केट में निगेटिव संकेत मिल रहे हैं। ग्रे मार्केट में 23 फरवरी को आईपीओ 2 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा था। इश्यू प्राइस 342-360 रुपये प्रति शेयर तय है।

Deepak Kumar लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीFri, 23 Feb 2024 09:52 PM
हमें फॉलो करें

Juniper Hotels IPO: हयात ब्रांड के तहत होटल चलाने वाली कंपनी जुनिपर होटल्स के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) को पेशकश के अंतिम दिन शुक्रवार को 2.08 गुना सब्सक्रिप्शन मिला। एनएसई के आंकड़ों के मुताबिक IPO के तहत की गई 2,89,47,367 शेयरों की पेशकश के मुकाबले 6,01,14,160 शेयरों के लिए बोलियां लगाई गईं। खुदरा व्यक्तिगत निवेशकों (आरआईआई) के कैटेगरी में 1.28 गुना, गैर-संस्थागत निवेशकों की श्रेणी में 85 प्रतिशत सब्सक्रिप्शन मिला। वहीं पात्र संस्थागत खरीदारों के कैटेगरी को 2.96 गुना अधिक सब्सक्रिप्शन मिला है।

ग्रे मार्केट प्रीमियम से बुरे संकेत
जुनिपर होटल्स के आईपीओ को ग्रे मार्केट में निगेटिव संकेत मिल रहे हैं। ग्रे मार्केट में 23 फरवरी को यह आईपीओ 2 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा था। इसका उच्चतम प्रीमियम 10 रुपये गया है। कहने का मतलब है कि आईपीओ की लिस्टिंग या तो निगेटिव में हो सकती है या फिर मामूली प्रीमियम पर लिस्टिंग की संभावना है।

क्या था इश्यू प्राइस
जुनिपर होटल्स के आईपीओ में 1,800 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए हैं। इसके लिए इश्यू प्राइस 342-360 रुपये प्रति शेयर तय किया गया था। ग्रे मार्केट प्रीमियम के हिसाब से शेयर की लिस्टिंग 362 रुपये पर हो सकती है। जुनिपर होटल्स ने आईपीओ खुलने के पहले बड़े निवेशकों से 810 करोड़ रुपये जुटाए थे। आईपीओ की लिस्टिंग 28 फरवरी 2024 को होगी।

क्या होगा पैसे का
कंपनी कर्ज चुकाने के लिए इश्यू से प्राप्त राशि के 1,500 करोड़ रुपये खर्च करेगी। शेष राशि का उपयोग सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों और निर्गम व्यय के लिए किया जाएगा। आईपीओ के बाद कंपनी का कर्ज का बोझ काफी कम हो जाएगा। सितंबर 2023 तक कंपनी पर 2,252.75 करोड़ रुपये का बकाया था, जो मार्च 2023 तक 2,045.6 करोड़ रुपये से बढ़ गया।

जुनिपर होटल्स के पास सात होटलों और कुल 1,836 कमरों वाले सर्विस अपार्टमेंट का पोर्टफोलियो है। होटल डेवलपर सराफ समूह और हॉस्पिटैलिटी ब्रांड हयात होटल्स कॉर्पोरेशन के स्वामित्व वाली कंपनी अपने होटल और सर्विस्ड अपार्टमेंट को तीन अलग-अलग कैटेगरी के तहत संचालित करती है।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें