अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Ola को घाटा 2016-17 में बढ़कर 4,898 करोड़ रुपये हुआ

ola

कैब सेवा देने वाली कंपनी ओला की आय बढ़ने के बावजूद उसकी घाटे में तेज वृद्धि हुई है। ओला को वित्त वर्ष 2016-17 में 4,897.8 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। 2015-16 में उसका घाटा 3,147.9 करोड़ रुपये था। वहीं, पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले उसकी कुल आय में 70 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। नियामकीय दस्तावेजों से इसकी जानकारी हुई। 

रजिस्टर ऑफ कंपनीज में पेश दस्तावेजों के अनुसार, ओला का परिचालन करने वाली एएनआई टेक्नोलॉजी की एकीकृत शुद्ध आय में 70 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई। आय 2015-16 में 810.7 करोड़ रुपये से बढ़कर 2016-17 में 1,380.7 करोड़ रुपये हो गयी। ओला ने भेजे गए ई- मेल का कोई जबाव नहीं दिया है। 

शोध फर्म टोफलर की संस्थापक आंचल अग्रवाल ने कहा कि 1000 करोड़ रुपये के एकबारगी नुकसान से नतीजे खराब रहे। ई - कॉमर्स कंपनियों की तर्ज पर उसके विज्ञापन खर्च में 35 प्रतिशत की गिरावट हुई है। बाजार अनुसंधान कंपनी टोफ्लर को मिले दस्तावेज के मुताबिक, ओला को वित्त वर्ष 2016-17 में वित्तीय प्रतिभूतियों की कीमतों की वजह से 1,095.3 करोड़ रुपये की एकबारगी हानि हुई। कंपनी का कर्मचारी खर्च करीब 24 प्रतिशत बढ़कर 572.1 करोड़ रुपये रहा जबकि ब्याज खर्च बढ़कर 28.7 करोड़ रुपये हो गया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:loss increases of ola cab in year 2016 17