ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessLast chance to buy cheap gold from Modi government this year buy 5 days from today

Sovereign Gold Bond: सरकारी गारंटी के साथ सस्ता सोना खरीदने का इस साल आखिरी मौका, 15 सितंबर तक कर सकेंगे निवेश

SGB: क्या है स्वर्ण बॉन्ड, सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश कैसे करें? बाजार से कितना सस्ता है सोना? कहां से खरीदें, ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? इन तमाम सवालों के जवाब इस खबर में दिए गए हैं।

Sovereign Gold Bond: सरकारी गारंटी के साथ सस्ता सोना खरीदने का इस साल आखिरी मौका, 15 सितंबर तक कर सकेंगे निवेश
Drigraj Madheshiaहिन्दुस्तान ब्यूरो,नई दिल्लीMon, 11 Sep 2023 05:44 AM
ऐप पर पढ़ें

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (SGB) योजना में निवेशक सोमवार से निवेश कर सकेंगे। आरबीआई ने गोल्ड बॉन्ड की कीमत 5,923 रुपये प्रति ग्राम रखी है। इसमें ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से निवेश किया जा सकता है। ऑनलाइन खरीदारी पर 50 रुपये की छूट मिलती है यानी निवेशक को यह 5,873 रुपये प्रति ग्राम का पड़ेगा। बॉन्ड की बिक्री आज से 15 सितंबर तक चलेगी। वित्त वर्ष 2023-24 के लिए स्वर्ण बॉन्ड की यह दूसरी और अंतिम सीरीज होगी। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में आप 24 कैरेट यानी 99.9% शुद्ध सोने में निवेश करते हैं।

क्या है स्वर्ण बॉन्ड?
यह सरकार की ओर से जारी निवेश पत्र (बॉन्ड) है। इसकी शुरुआत 2015 में हुई थी। यह सोने में निवेश का विकल्प है। इसे सरकार की ओर से रिजर्व बैंक जारी करता है। इसकी खरीदारी म्यूचुअल फंड की तरह यूनिट में की जाती है। इसे बेचने पर उस समय उसके मौजूदा मूल्य के आधार पर राशि मिलती है। इसमें न्यूनतम एक ग्राम सोने के बराबर राशि निवेश कर सकते हैं।

सात सालों में 120% का रिटर्न
वर्ष 2015-16 में  सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम लॉन्च किए जाने वक्त इसका भाव प्रति ग्राम  2,684 रुपये था। 50 रुपये  डिस्काउंट के साथ भाव 2,634 रुपये हो गया था। मौजूदा सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की सीरीज का भाव 5,923 रुपये और 50 रुपये डिस्काउंट के साथ देखें तो 5,873 रुपये है। इस तरह पिछले 7 सालों में इस स्कीम से 120% का रिटर्न मिला है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि सोने में लंबे समय के लिए निवेश सही रहता है। 

ऐसे कर सकते हैं निवेश
गोल्ड बॉन्ड में ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से निवेश की सुविधा है। अगर कोई ऑफलाइन निवेश करना चाहता है तो उसे चुनिंदा बैंक शाखाओं में जाकर फॉर्म भरना होगा और सभी औपचारिकताएं पूरी करनी होंगी। इसके अलावा ऑनलाइन निवेश के इच्छुक लोगों को भारतीय रिजर्व बैंक अथवा अन्य बैंकों की वेबसाइट के जरिए गोल्ड बॉन्ड की खरीद के लिए आवेदन करना होता है।

कहां से खरीदें?
सरकार की ओर से गोल्ड बॉन्ड आरबीआई द्वारा जारी किए जाते हैं। आरबीआई ने इनकी बिक्री के लिए चुनिंदा बैंकों और पोस्ट आफिस, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन, क्लियरिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया तथा स्टॉक एक्सचेंज एनएससी और बीएससी को अधिकृत किया हुआ है। स्टॉक एक्सचेंज के जरिए बॉन्ड खरीदने के लिए डीमैट खाता होना जरूरी है।

कितना निवेश कर सकेंगे?
आरबीआई के दिशा-निर्देशों के अनुसार, स्वर्ण बॉन्ड में निवेश करने के लिए कम से कम 1 ग्राम सोना खरीदना होगा। कोई भी व्यक्ति एक बार में अधिक 500 ग्राम तक खरीद सकता है, जबकि एक वित्त वर्ष के लिए यह सीमा अधिकतम चार किलोग्राम है। कुछ संस्थाओं के लिए यह सीमा 20 किलोग्राम तक है।

सालाना कितना ब्याज?
इसमें दस्तावेज के रूप में और डिजिटल रूप में भी निवेश कर सकते हैं। इसकी परिपक्वता अवधि आठ साल की है, लेकिन पांच साल पूरा होने पर इसमें से राशि निकलने की छूट है। सरकारी स्वर्ण बॉन्ड पर 2.5 फीसदी की सालाना दर से ब्याज मिलता है। यह साल में दो बार मिलता है। हालांकि, स्वर्ण बॉन्ड से मिला ब्याज टैक्सेबल है, लेकिन इन बॉन्ड को भुनाने से होने वाले लाभ पर कोई कैपिटल गेन्स टैक्स नहीं लगता।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब आप यहां जान सकते हैं।

8 साल से पहले बेचने पर क्या होगा?
सॉवरेन बॉन्ड का मच्योरिटी पीरियड 8 साल रहता है।  इसके बाद  इससे होने वाले लाभ पर कोई टैक्स नहीं लगता, लेकिन अगर आप 5 साल बाद अपना पैसा निकालते हैं, तो इससे होने वाले लाभ पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स के रूप में 20.80% टैक्स लगता है।

2021 में सबसे ज्यादा निवेश 
आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2021 में सबसे अधिक स्वर्ण बॉन्ड में निवेश हुआ था और यह 32 टन के सर्वोच्च शिखर पर पहुंच गया था। इसके बाद वित्त वर्ष 2022 में 27 टन के बराबर स्वर्ण बॉन्ड की खरीदारी हुई।

ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें
- नामित बैंक की वेबसाइट पर जाना होगा। होमपेज पर या ई-सर्विस सेक्शन में सॉवरेन गोल्ड बांड का विकल्प चुनना होगा।
- बॉन्ड से संबंधित जरूरी नियम-शर्तों को पढ़ने के बाद पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा।
- इसे भरने के बाद सोने की मात्रा और नॉमिनी का ब्योरा भरना होगा।
- सभी जानकारियों को सत्यापित करने के बाद फॉर्म सब्मिट करना होगा।
- इसके बाद भुगतान की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। बैंक गोल्ड बॉन्ड जारी करेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें