DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेट एयरवेज का शेयर 41 प्रतिशत टूटा

jet airways fare photo ht

भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई वाली बैंकों के समूह द्वरा जेट एयरवेज के विरुद्ध  दिवालयापन प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय के बाद मुगलवार को कंपनी के शेयरों में 41 प्रतिशत की बड़ी गिरावट आई। कंपनी के ऋणदाताओं ने सोमवार को एयरलाइन के पुनरोद्धार के प्रयास को छोड़ने और इस मामले को दिवाला कार्रवाई के लिए राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) में भेजने की घोषणा की।

जेट एयरवेज का शेयर 52 प्रतिशत की जबरदस्त गिरावट के साथ दिन के सबसे निचले स्तर 32.25 प्रति शेयर पर पहुंच गया था। हालांकि, बाद में यह सुधर कर 40.48 फीसदी टूटकर 40.50 प्रति शेयर पर बंद हुआ। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के 8500 करोड़ ऋण के अलावा, विमानन कंपनी के ऊपर लगभग 15,000 करोड़ रुपये का ऋण है, जिसमें संचालन लेनदारों का बकाया भी शामिल है। जेट एयरवेज ने खराब वित्तीय हालत के बाद 17 अप्रैल को अपने सभी संचालन को बंद कर दिया था।

बाजार में गिरावट का सिलसिला थमा 
बंबई शेयर बाजार में लगातार चार कारोबारी सत्रों से चली आ रही गिरावट का सिलसिला मंगलवार को थम गया। अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की बैठक से पहले भारी उतार-चढ़ाव के बीच सेंसेक्स 86 अंक चढ़ गया। कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट तथा रुपये के मजबूत होने से कुल बाजार धारणा में सुधार हुआ। सेंसेक्स 85.55 अंक की बढ़त के साथ 39,046.34 अंक पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 5 अंक या 0.17 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,691.50 अंक पर बंद हुआ। विशेषज्ञों का कहना है कि कंपनियों के कमजोर तिमाही परिणाम, मानसून की धीमी प्रगति, कॉरपोरेट द्वारा कर्ज चुकाने में चूक और अमेरिका-भारत व्यापार विवाद की वजह से बाजार के लिए मौजूदा उच्चस्तर पर टिके रह पाना मुश्किल हो रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jet Airways Share Down By 41 Percent