DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीते 10 साल में दूसरी भारतीय एयरलाइन हुई बंद, जानें 10 बड़ी बातें

पिछले एक दशक में किंगफिशर एयरलाइन के बाद कामकाज बंद करने वाली जेट एयरवेज दूसरी बड़ी कंपनी बन गई है। शराब कारोबारी विजय माल्या की किंगफिशर ने साल 2012 में कामकाज बंद कर दिया था। अब 26 साल से अपनी सेवाएं दे रही जेट एयरवेज ने अपनी उड़ाने अस्थायी तौर पर बंद कर दी है। कभी एक दिन में सैंकड़ों की संख्या में फ्लाइट्स उड़ाने वाली जेट की आज यह हालत है कि वह अपना कर्ज नहीं चुका पा रही है। हालांकि अभी भी जेट के फिर से उड़ान भरने की उम्मीदें खत्म नहीं हुई है। बैंक उसे बचाए रखने के लिए बोली प्रक्रिया शुरू करने के लिए प्रतिबद्धता दिखा रहे हैं। आइए जानते हैं जेट एयरवेज से जुड़ी 10 अहम बातें...

1. भारतीय स्टेट बैंक (सीबीआई) के नेतृत्व में 26 ऋणदाताओं के एक संघ ने संभावित निवेशकों से बोलियां मंगाई हैं। बैंकों के समूह द्वारा 400 करोड़ रुपये की त्वरित ऋण सहायता उपलब्ध कराने से इनकार किए जाने के बाद एयरलाइन ने घोषणा की वह गुरुवार से उसकी सभी घरेलू तथा अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द रहेंगी। ये परिचालन अस्थायी रूप से बंद किया गया है। इसके लिए कंपनी ने नकदी की कमी का हवाला दिया।

2 हालांकि, आज बृहस्पतिवार को जेट एयरवेज के ऋणदाताओं ने हिस्सेदारी की बिक्री के लिए बोली प्रक्रिया के सफलतापूर्वक पूरी होने की उम्मीद जाहिर की। नकदी संकट से जूझ रहे एयरलाइन के अपनी सेवाओं को निलंबित करने के बाद कर्ज देने वालों ने ये आशा प्रकट की है। इससे जेट को लेकर थोड़ी उम्मीदें अभी भी हैं। 

3 जेट एयरवेज के परिचालन बंद करने के फैसले से जहां यात्रियों, एयरलाइन के आपूर्तिकर्ताओं का करोड़ों रुपया फंस गया और इसके 20 हजार से अधिक कर्मचारियों का भविष्य अधर में लटक गया है। एयरलाइन पर बैंकों का 8,500 करोड़ रुपये से अधिक का बकाया है जिसके चलते वह कर्ज संकट में फंसती चली गई।

4 नरेश गोयल द्वारा शुरू की गई जेट एयरवेज ने ढाई दशक तक लाखों यात्रियों को विमान सेवायें उपलब्ध कराई लेकिन 2010 के संकट के बाद एयरलाइन का कर्ज संकट गहराने लगा। 

5 कंपनी को लगातार चार तिमाहियों में घाटा उठाना पड़ा। इसके बाद वह कर्ज के भुगतान में असफल होने लगी। पिछले साल दिसंबर में 123 विमानों के साथ परिचालन करने वाली कंपनी की अब एक भी फ्लाइट उड़ान नहीं भर रही है।

6 जेट एयरवेज के पायलटों के संगठन नेशनल एविएटर्स गिल्ड के उपाध्यक्ष आदिम वालियानी ने कंपनी का परिचालन जारी रखने के लिये भारतीय स्टेट बैंक से 1,500 करोड़ रुपये जारी करने की अपील कर रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी  भी अपील करते हुए कहा कि वे कंपनी में काम कर रहे 20 हजार लोगों की नौकरियां बचायें।

जेट एयरवेज: कर्ज देने वाले बैंकों को बोली प्रक्रिया सफल रहने की उम्मीद

7 संकटग्रस्त जेट एयरवेज की प्रमुख प्रतिद्वंद्वी और सस्ते किराये की विमानन सेवा प्रदान करने वाली कंपनी स्पाइसजेट अब जेट एयरवेज के कर्मचारियों के लिए और मुसीबत बनकर सामने आई है। उसने जेट के पायलटों एवं इंजीनियरों को 30 से 50 फीसदी कम वेतन पर लेना शुरू कर दिया है। स्पाइसजेट इन दिनों इंजीनियरों और पायलटों की भर्ती कर रही है और वह वित्तीय संकट से ग्रस्त जेट के कर्मियों को 30 से 50 फीसदी कम वेतन पर कंपनी में ले रही है।

8 जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल बोर्ड की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। नरेश गोयल ने अपनी पत्नी अनिता के साथ मिलकर साल 1993 में एयरलाइन कंपनी की शुरुआत की थी।

9 नरेश गोयल अब कंपनी के चेयरमैन भी नहीं हैं। इस्तीफे के बाद गोयल की जेट एयरवेज में 51 फीसदी हिस्सेदारी घटकर 25.5 फीसदी पर आ गई है। फिलहाल जेट एयरवेज पर कई पब्लिक और विदेशी बैंकों का कर्ज है। इसमें पब्लिक सेक्टर बैंक में केनरा बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, सिंडिकेट बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, इलाहबाद बैंक शामिल हैं। इस लिस्ट में एसबीआई और पीएनबी का नाम भी जुड़ जाएगा। 

10 नरेश गोयल ने तय किया टैवल एजेंट से एयरलाइन मालिक तक का सफर 
बीकॉम पास नरेश गोयल ने 1967 में एक ट्रैवल एजेंसी में 300 रुपये मासिक वेतन पर पहली नौकरी शुरू की। इराक, जॉर्डियन एयरलाइन के रीजनल मैनेजर की नौकरी की। रिजर्वेशन, सेल्स मैनेजर का काम किया। 1991 में ओपन स्काई पॉलिसी के बाद एयरलाइन का आवेदन दिया। 5 मई 1993 को जेट का आगाज हुआ। पहले साल 7 लाख 30 हजार यात्रियों को सफर, 2005 में विदेशी उड़ानों की शुरुआत की। एयरलाइन का सालाना टर्नओवर 2009 में 14 अरब डॉलर तक पहुंच गया। गोयल देश के 20 सबसे अमीरों में शामिल हो गए। 27 साल पहले नरेश व अनीता गोयल ने जेटएयरवेज बनाई। 

जेट एयरवेज के शेयर 30 फीसदी लुढ़के, बंद हो चुकी हैं सभी उड़ानें 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jet airways and kingfisher Two Indian airlines shut down business in last 10 years