class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेटली ने ग्वारसीड में विकल्प कारोबार का किया शुभारंभ, किसानों को होगा फायदा

Finance Minister Arun Jaitley

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रविवार को जिंस एक्सचेंज एनसीडीईएक्स में ग्वारसीड में विकल्प कारोबार का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि, इस नई पहल से किसानों को फायदा होगा और उन्हें आगामी दिनों में बेहतर मूल्य मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि, कुछ स्थानों पर कुछ कृषि जिंसों के ऊंचे उत्पादन की वजह से कीमतों में गिरावट आई है। वित्त मंत्री ने कहा कि, विकल्प कारोबार किसानों को इस स्थिति से बाहर निकालने के लिए एक प्रमुख कदम है।

सिप पर निवेशकों का भरोसा: म्यूचुअल फंडों ने जुटाए 6200 करोड़ रुपये

एमसीएक्स के बाद एनसीडीईएक्स जिंसों का विकल्प कारोबार शुरू करने वाला दूसरा एक्सचेंज है। अक्तूबर, 2017 में एमसीएक्स ने सोने का विकल्प कारोबार शुरू किया था। ग्वारसीड पहला कृषि जिंस है, जिसमें विकल्प कारोबार शुरू किया गया है। विकल्प एक ऐसा वायदा कारोबार होता है, जिसमें खरीदार के पास अधिकार तो होता है लेकिन उसे किसी निश्चित तारीख पर या उससे पहले विशिष्ठ दाम पर संपत्ति को खरीदने या बेचने दायित्व नहीं होता है। जेटली ने इस मौके पर कहा कि, ''मुझे उम्मीद है कि इस पहल से आगामी दिनों में किसानों को भारी फायदा मिलेगा।"

किसानों के योगदान की सराहना करते हुए जेटली ने कहा कि, देश की सेवा के लिए उन्होंने कोई प्रयास नहीं छोड़ा है। उन्हें अनाज की कमी वाले देश को अधिशेष उत्पादन वाला देश बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। हालांकि, ऊंचे उत्पादन की वजह से अब उन्हें कीमतों में गिरावट का सामना करना पड़ रहा है। वित्त मंत्री ने कहा कि, ''कुछ स्थानों पर अधिक उत्पादन की वजह से हम कीमतों में गिरावट की समस्या का सामना कर रहे हैं। किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य नहीं मिल रहा है। किसानों को इस स्थिति से बाहर लाने के लिए पिछले कुछ सालों में कई कदम उठाए गए हैं।" उन्होंने कहा कि, विकल्प कारोबार भी इसी दिशा में उठाया गया कदम है। उन्होंने कहा कि, शुरुआत में विकल्प कारोबार छोटा कदम लगेगा, लेकिन आने वाले दिनों में इसके बारे में जागरूकता बढ़ने के बाद इससे किसानों को फायदा होगा।

मांग बढ़ने से सोना सात सप्ताह के उच्चतम स्तर पर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jaitley launches vikalp karobar in Gwarseed
500-500 रुपये में लखपति बना सकती है ये स्कीम, जानिए कैसेसिप पर निवेशकों का भरोसा: म्यूचुअल फंडों ने जुटाए 6200 करोड़ रुपये