DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक खाते से अपने आप कट जाए SIP, निवेशक को 15 फरवरी तक फिर से देनी होगी इजाजत

saving

अगर आपने भी 26 सितंबर से 26 नवंबर 2018 के बीच एसआईपी में निवेश किया है तो आपको इसके स्वचालित भुगतान के लिए फंड हाउस को दोबारा स्वीकृति देनी होगी। नेशनल पेमेंट कारपोरेशन लिमिटेड (एनपीसीएल) ने उपभोक्ताओं से फिर कहा है कि वे 15 फरवरी तक इसके लिए जरूरी स्वीकृति दे दें। अगर इस समयसीमा तक स्वीकृति नहीं प्राप्त होती है तो अगली किस्त का भुगतान नहीं होगा और एसआईपी को निरस्त मान लिया जाएगा। 

आधार के नियम में बदलाव से जरूरत : आधार पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बदलाव की जरूरत पड़ी। पहले निवेशकों ने आधार के जरिये वेरीफिकेशन कराया था और उसी के हिसाब से खाते से पैसा कटने की स्वीकृति मिली। लेकिन निजी कंपनियों को आधार के इस्तेमाल की मनाही के बाद बैंक आधार के जरिये दी गई मंजूरी को मान्य नहीं करेंगे। 

DTH-केबल संचालक मौजूदा पैकेज से ज्यादा नहीं वसूल सकते- TRAI

कंप्यूटर एज मैनेजमेंट सिस्टम्स (कैम्स) इस दायरे में आने वाले निवेशकों को भरा हुआ फॉर्म भेज रहा है। निवेशकों को इसका प्रिंटआउट निकालकर फॉर्म पर साइन करना होगा। इसके बाद इसकी फोटो लेकर दिए गए ईमेल एड्रेस पर भेजनी होगी। कैम्स फिर इसे एनपीसीएल के डाटा में यह फॉर्म अपलोड कर देगा। जो निवेशक दस्तावेज ईमेल करने में सक्षम नहीं हैं, वे भौतिक रूप से कैम्स को यह फॉर्म भेज सकते हैं। 

ऑनलाइन म्यूचुअल फंड प्लेटफॉर्म एमएफ यूटिलिटीज, जो पहले आधार के जरिये ई वेरीफिकेशन की सुविधा देता है, वह भी अब ग्राहकों को नए तरीके से प्रमाणीकरण की पेशकश कर रहा है। कंपनी के एमडी वी. रमेश ने कहा कि हमारे प्लेटफॉर्म के जरिये भी निवेशक एसपीआई जारी रखने का अधिकार दे सकते हैं। एक और ऑनलाइन म्यूचुअल फंड मंच क्रिरपबॉक्स डॉट कॉम भी यह फॉर्म अपने निवेशकों को भेज रही है, जिससे उनकी एसआईपी में कोई भी दिक्कत न आए। 

 

210 महीना जमा कर पाएं 5000 रुपये की पेंशन, जानें कैसे उठाएं अटल पेंशन योजना का फायदा 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:investor have to give permission to deduct SIP automatically from account