ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessIndusInd Bank Suzlon Energy among nine firms added to MSCI India Index Business News India

MSCI इंडेक्स में मिली एनर्जी, बैंकिंग समेत 9 कंपनियों को एंट्री, एक्टिव मोड में शेयर

आपको बता दें कि इंडेक्स में इंडसइंड बैंक, सुजलॉन एनर्जी और वन 97 कम्युनिकेशंस सहित नौ कंपनियों को जोड़ा गया है। ये 30 नवंबर, 2023 से प्रभावी होगा। इस सूची में कई बड़ी कंपनियां शामिल हैं।

MSCI इंडेक्स में मिली एनर्जी, बैंकिंग समेत 9 कंपनियों को एंट्री, एक्टिव मोड में शेयर
Deepak Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 15 Nov 2023 08:41 PM
ऐप पर पढ़ें

मॉर्गन स्टेनली कैपिटल इंटरनेशनल यानी MSCI इंडिया इंडेक्स में बदलाव हुआ है। इस इंडेक्स में इंडसइंड बैंक, सुजलॉन एनर्जी और वन 97 कम्युनिकेशंस सहित नौ कंपनियों को जोड़ा गया है। ये 30 नवंबर, 2023 से प्रभावी होगा। इस सूची में कई बड़ी कंपनियां शामिल हैं।

कौन-कौन सी कंपनियां शामिल: नए ऐलान के मुताबिक एपीएल अपोलो ट्यूब्स, इंडसइंड बैंक, मैक्रोटेक डेवलपर्स, वन 97 कम्युनिकेशंस (पेटीएम की मूल कंपनी), पर्सिस्टेंट सिस्टम्स, पॉलीकैब इंडिया, सुजलॉन एनर्जी, टाटा कम्युनिकेशंस और टाटा मोटर्स को MSCI इंडिया इंडेक्स में जोड़ा जाएगा।

शेयरों पर क्या असर: बीएसई इंडेक्स पर सुजलॉन एनर्जी के शेयर 4.79 फीसदी, वन 97 कम्युनिकेशंस के शेयर 2.90 फीसदी, टाटा मोटर्स के शेयर 2.84 फीसदी, पर्सिस्टेंट सिस्टम्स के शेयर 0.61 फीसदी और मैक्रोटेक डेवलपर्स के शेयर में 0.37 फीसदी की तेजी रही। हालांकि, इंडसइंड बैंक का स्टॉक 1.05 प्रतिशत गिर गया। इसी तरह, टाटा कम्युनिकेशंस का स्टॉक 1.26 प्रतिशत लुढ़का। एपीएल अपोलो ट्यूब्स के शेयर में 0.90 प्रतिशत गिरावट आई। इसी तरह, पॉलीकैब इंडिया के शेयर 0.04 प्रतिशत लुढ़के।

सुजलॉन समूह को सफलता: इस बीच, सुजलॉन समूह ने अपनी एस144 - 3 मेगावाट चेन की विंड टरबाइन, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय की 'मॉडल और निर्माताओं की संशोधित सूची' (आरएलएम) में सूचीबद्ध करने की घोषणा की है। कंपनी ने एक बयान में कहा- हमारे एस144 उत्पाद को बाजार से उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिलने के बाद यह लिस्टिंग सही समय पर हुई है, जो मजबूत ऑर्डर प्रवाह से स्पष्ट है। बता दें कि सुजलॉन समूह दुनिया के अग्रणी नवीकरणीय ऊर्जा समाधान प्रदाताओं में से एक है, जिसकी 17 देशों में 20.3 गीगावॉट विंड एनर्जी कैपिसिटी स्थापित है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें