IndiGo Airlines promoters spat out in open Rakesh Gangwal alleges governance lapses - प्रवर्तकों के बीच विवाद से संकट में इंडिगो; गंगवाल बोले, पान की दुकान भी इससे बेहतर चलती है DA Image
14 नबम्बर, 2019|5:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रवर्तकों के बीच विवाद से संकट में इंडिगो; गंगवाल बोले, पान की दुकान भी इससे बेहतर चलती है

indigo flight (picture- Twentyfournews.com)

प्रवर्तकों के बीच तीखे विवाद से किफायती विमानन कंपनी इंडिगो का संकट गहरा गया है। इंडिगो के प्रवर्तक राकेश गंगवाल ने मंगलवार को कंपनी के सह संस्थापक राहुल भाटिया पर गंभीर अनियमितता का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि पान की दुकान भी इससे बेहतर तरीके से चलती है। यह विवाद ऐसे वक्त गहराया है, जब जेट एयरवेज और एयर इंडिया जैसी विमानन कंपनियां पहले ही लड़खड़ा रही हैं।

गंगवाल के पास इंटरग्लोब एविएशन के 37 फीसदी शेयर हैं, जो इंडिगो की मूल कंपनी है। राहुल और उनके सहयोगियों के पास 38 फीसदी हिस्सेदारी है। गंगवाल ने बाजार नियामक सेबी को पत्र लिखकर राहुल और उनकी कंपनियों के बीच संदिग्ध लेनदेन का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कॉरपोरेट कानून और अन्य नियम-कानूनों का भी उल्लंघन किया जा रहा है।

उन्होंने कंपनी की असाधारण आम सभा की बैठक बुलाने की मांग की है। इस पत्र की एक प्रतिलिपि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को भी भेजी गई है। भाटिया का कहना है कि अनुचित मांगों को मानने से इनकार करने पर गंगवाल ऐसे आरोप लगा रहे हैं। 

सेबी शिकायत पर विचार करेगा
बाजार नियामक सेबी ने अनियमितता की इन शिकायतों को लेकर गंभीर रुख दिखाया है। उसने इंडिगो से 19 जुलाई तक जवाब देने को कहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर इंडिगो का विवाद गहराता है तो विमानन क्षेत्र को एक और बड़ा झटका लगेगा और यात्रियों को भी इसकी कीमत चुकानी पड़ सकती है। 

इंडिगो के शेयर  गिरे

इस पूरे मामले के बाद इंडिगो के शेयर 12.2 फीसदी गिरकर 1,373 रुपये पर आ गए। शेयर में 191 रुपये की गिरावट रही।

स्टेट बैंक ने ब्याज दर में की कटौती, जानिए कितना सस्ता होगा होम लोन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:IndiGo Airlines promoters spat out in open Rakesh Gangwal alleges governance lapses