DA Image
29 अक्तूबर, 2020|4:50|IST

अगली स्टोरी

इन दो सरकारी बैंकों ने कर्ज किया सस्ता

Rs 3 lakh cr recovered from big corporate loan defaulters: FM

सार्वजनिक क्षेत्र के इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) ने अपनी आधार दर 0.10 फीसद घटाकर 9.35 फीसद कर दी है। आईओबी ने शुक्रवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि बैंक की संपत्ति देनदारी प्रबंधन समिति ने आधार दर 9.45 फीसद से कम कर 9.35 फीसद करने का निर्णय किया है। नई दर 10 अगस्त, 2020 से प्रभाव में आएगी। आधार दर न्यूनतम ब्याज दर है, इससे नीचे बैंक ग्राहकों को कर्ज नहीं दे सकता।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने एमसीएलआर 0.20% घटाई

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ महाराष्ट्र (बीओएम) ने चुनिंदा परिपक्वता अवधि वाले ऋणों के लिए कोष की सीमान्त लागत आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) में 0.20 फीसद तक की कटौती की है। पुणे स्थित इस बैंक द्वारा एमसीएलआर में लगातार पांचवीं बार कटौती की गई है। बीओएम ने शुक्रवार को बयान में कहा कि एक साल की एमसीएलआर को 0.10 फीसद घटाकर 7.50 से 7.40 फीसद किया गया है। एक दिन की एमसीएलआर को सात से घटाकर 6.80 फीसद किया गया है।

यह भी पढ़ें: क्रेडिट पॉलिसी के ऐलान के बाद केनरा बैंक ने दिया ग्राहकों को तोहफा

इस तरह एक माह की एमसीएलआर को 7.10 से घटाकर 6.90 फीसद किया गया है। एमसीएलआर के अलावा बैंक ने किसानों तथा खुदरा ग्राहकों को दिए जाने वाले कर्ज पर ब्याज दर में कटौती की है। किसानों को कृषि स्वर्ण ऋण अब एक साल के लिए 7.40 फीसद की एमसीएलआर पर मिलेगा। पहले यह दर 7.80 फीसद थी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Indian Overseas Bank and banks of Maharashtra made loans cheaper