ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेससरकारी तेल कंपनी का दोहरा तोहफा, बोनस शेयर और डिविडेंड देने की तैयारी

सरकारी तेल कंपनी का दोहरा तोहफा, बोनस शेयर और डिविडेंड देने की तैयारी

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 1:2 के रेशियो में बोनस शेयर जारी करना रिकमंड किया है। साथ ही, कंपनी बोर्ड ने हर शेयर पर 3.60 रुपये का फाइनल डिविडेंड रिकमंड किया है।

सरकारी तेल कंपनी का दोहरा तोहफा, बोनस शेयर और डिविडेंड देने की तैयारी
Vishnuलाइव मिंट,नई दिल्लीTue, 17 May 2022 07:17 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

सरकारी कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) के बोर्ड ने बोनस शेयर जारी करने को अपनी मंजूरी दे दी है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 1:2 के रेशियो में बोनस शेयर जारी करना रिकमंड किया है। यानी, जिन निवेशकों के पास कंपनी के 2 शेयर होंगे, उन्हें 1 बोनस शेयर मिलेगा। कंपनी के बोर्ड ने बोनस शेयर की रिकॉर्ड डेट 1 जुलाई 2022 फिक्स की है। इंडियन ऑयल के शेयर मंगलवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में करीब 2 फीसदी की तेजी के साथ 124.40 रुपये पर बंद हुए हैं। 

हर शेयर पर कंपनी दे रही 3.60 रुपये का फाइनल डिविडेंड
ऑयल मार्केटिंग कंपनी IOC के बोर्ड ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 10 रुपये फेस वैल्यू (बोनस से पहले) वाले हर शेयर पर 3.60 रुपये का फाइनल डिविडेंड रिकमंड किया है, जो कि बोनस शेयर के बाद प्रति शेयर 2.40 रुपये का फाइनल डिविडेंड हो जाएगा। फाइनल डिविडेंड का भुगतान AGM में डेट ऑफ डिक्लेरेशन से 30 दिन के भीतर कर दिया जाएगा। सरकारी ऑयल कंपनी ने फाइनेंशियल ईयर 2021-22 के लिए फाइनल डिविडेंड के अलावा हर शेयर पर 9 रुपये का अंतरिम डिविडेंड दिया है। 

यह भी पढ़ें- एलआईसी के शेयरों की फ्लॉप लिस्टिंग, पहले ही दिन निवेशकों को नुकसान, इतने पर लिस्ट हुए LIC Share

कंपनी को मार्च तिमाही में 6,645 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट
सरकारी ऑयल मार्केटिंग कंपनी को मार्च 2022 को खत्म तिमाही में 6,645.72 करोड़ रुपये का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट हुआ है। पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले सरकारी कंपनी का मुनाफा 26.37 फीसदी घटा है। पिछले साल की मार्च तिमाही में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन को 9,026.49 करोड़ रुपये का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट हुआ था। ऑपरेशंस से हासिल होने वाला कंपनी का रेवेन्यू 26.13 फीसदी बढ़कर 209,049.16 करोड़ रुपये रहा है, जो कि पिछले साल की समान अवधि में 1,65,734.27 करोड़ रुपये रहा था। कंपनी ने कहा है कि अप्रैल-मार्च 2022 के लिए उसका एवरेज ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन (GRM) 11.25 डॉलर प्रति बैरल रहा है।

यह भी पढ़ें- 40% डिविडेंड दे रही यह कंपनी, ऐलान के बाद 2 दिन में 19% चढ़े शेयर, इस दिग्गज इनवेस्टर ने लगाया है बड़ा दांव

epaper