DA Image
14 जुलाई, 2020|5:44|IST

अगली स्टोरी

डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर मुकेश अंबानी का बड़ा बयान, कार्टर, क्लिंटन और ओबामा के देखे हुए से अलग होगा इंडिया

अमेरिका के राष्ट्रपति भारत के दौरे पर हैं और उनके दौरे को लेकर देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी ने भी एक टिप्पणी की है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुखिया मुकेश अंबानी ने कहा है कि ट्रंप 2020 में जो भारत देखेंगे, वह कार्टर, क्लिंटन और यहां तक कि ओबामा ने जो भारत देखा है, उससे अलग होगा। पीटीआई के मुताबिक अंबानी ने कहा कि भारत में हमारे पास एक प्रमुख डिजिटल समाज बनने का मौका है। भारत में जमीनी स्तर पर उद्यमिता की ताकत विराट है। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि हम दुनिया की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में होंगे। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि भारत में अभी गेमिंग का अस्तित्व नहीं। संगीत और फिल्मों दोनों को मिला दिया जाए, तो भी गेमिंग क्षेत्र अधिक बड़ा है। वह मुंबई में माइक्रोसॉफ्ट के फ्यूचर डिकोडेड सीईओ कॉन्क्लेव में पहुंचे कॉन्क्लेव को संबोधित कर रहे थे।

यह भी पढ़ें: 45000 के और करीब पहुंचा 10 ग्राम सोने का भाव, जानें आज का रेट

माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सत्य नडेला की भारत यात्रा के मौके पर सोमवार को आयोजित 'फ्यूचर डिकोडेड सीईओ सम्मेलन को संबोधित करते हुए अंबानी ने कहा कि इस बड़े बदलाव में मोबाइल नेटवर्क का फैलाव प्रमुख भूमिका निभा रहा है। यह पहले की तुलना में अधिक तेजी से काम कर रहा है। अंबानी ने कहा, ''इसकी शुरुआत 2014 में प्रधानमंत्री के डिजिटल भारत के दृष्टिकोण के साथ हुई थी। 38 करोड़ लोग अब जियो की 4जी प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जियो से पहले डेटा की रफ्तार 256 केबीपीएस थी। जियो के बाद यह 21 एमबीपीएस तक पहुंच गई है। 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा का उल्लेख करते हुए अंबानी ने कहा कि आज उन्हें जो भारत दिखाई देगा, वह उनके पूर्ववर्तियों जिम्मी कार्टर, बिल क्लिंटन या बराक ओबामा ने जैसा भारत देखा है उससे भिन्न होगा। अंबानी ने कहा कि मोबाइल 'कनेक्टिविटी एक बड़ा बदलाव है। 

हम दुनिया की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में होंगे

रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख ने कहा, ''मेरे मन में इस बात को लेकर कोई संदेह नहीं है कि हम दुनिया की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में होंगे। उन्होंने कहा कि इसमें सिर्फ इस बात पर बहस की गुंजाइश है कि यह पांच साल में होगा या दस साल में। उन्होंने कहा कि भारत में हमारे पास एक प्रमुख डिजिटल समाज बनने का अवसर है। अंबानी ने नडेला की ओर इशारा करते हुए कहा कि अगली पीढ़ी काफी अलग भारत देखेगी। यह उस भारत से भिन्न होगा जिसमें आप और हम पले बढ़े हैं। 

इस कॉन्क्लेव में माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने कहा कि भारतीय कंपनियों के सीईओ को तकनीकी रूप से सक्षम बनने की जरूरत है। यह भी तय करना होगा कि समाधान संयुक्त रूप से सामने आएं। सोमवार को भारत दौरे पर पहुंचे नडेला यहां तीन दिन रहेंगे। इसमें मुकेश अंबानी के अलावा टीसीएस के सीईओ-एमडी राजेश गोपीनाथन भी शामिल हुए। गोपीनाथन ने कहा कि तकनीकी बदलाव के लिए उनकी कंपनी पहले से मौजूद टैलेंट को तैयार करने पर जोर देती है। इस बात का ध्यान रखा जाता है कि बाहरी लोगों को तलाश करने की बजाय बेहतर क्षमताओं वाले कर्मचारी कंपनी के साथ बने रहें। युवाओं के पास बेहतरीन नॉलेज होती है, वे तेजी से सीखते हैं। लेकिन, ट्रेनिंग की जरूरत होती है। आईटी सेक्टर में कई सालों वाले प्रोजेक्ट का दौर खत्म हो चुका है।

डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ने साबरमती आश्रम में चरखा चलाया

दो दिवसीय भारत दौरे पर गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप ने साबरमती आश्रम में चरखा चलाया। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद उन्हें इस बारे में समझाया और सूत भी काटा। यहां अमेरिकी राष्ट्रपति ने महात्मा गांधी की तस्वीर पर सूत की माला पहनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। दोनों नेता जब यहां पहुंचे तो सूत का सरोपा पहनाकर उनका स्वागत किया गया।

दो दिवसीय भारत दौरे पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचे, जहां पर पीएम मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर उन्हें गला लगातर स्वागत किया। उनके साथ फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप और अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओब्रायन, वाणिज्य मंत्री विलबर रॉस, ऊर्जा मंत्री डैन ब्रोइलेट समेत अन्य 12 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य हैं।  अहमदाबाद एयरपोर्ट से निकलने के बाद राष्ट्रपति ट्रंप और पीएम मोदी रोड शो करते हुए 22 किलोमीटर का सफर तय कर साबरमती आश्रम पहुंचे। अब आगे मोटेरा में 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम होने जा रहा है, जहां पर राष्ट्रपति ट्रंप संबोधित करेंगे।

इससे पहले पीएम मोदी ने रविवार को ट्वीट कर कहा था कि भारत अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत को उत्सुक है, “वह कल हमारे साथ होंगे, अहमदाबाद में ऐतिहासिक कार्यक्रम की शुरुआत के साथ!” यह सम्मान की बात है। इससे पहले, डोनाल्ड ट्रंप ने भारत दौरे पर निकलने से पहले मीडिया से बात करते हुए कहा, ''मैं भारत के लोगों से मिलने के लिए उत्सुक हूं। वहां लाखों लोग होंगे। यह एक लंबी यात्रा है। मैं प्रधानमंत्री (नरेंद्र) मोदी के साथ मुलाकात बहुत अच्छी होती है। वह मेरे दोस्त हैं।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India that Trump will see in 2020 will be different than what Carter Clinton or even Obama saw said Mukesh Ambani