DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ITR: संभाल कर रखें 7 साल के इनकम टैक्स रिटर्न के रिकॉर्ड, नोटिस का जवाब देने के आएंगे काम

itr 1

आयकर विभाग आपसे कम से कम सात साल तक के रिटर्न के दस्तावेज मांग सकता है। इन्हें संभालकर रखना जरूरी है। सामान्यतया आयकर विभाग रिटर्न भरने की अंतिम प्रक्रिया पूरी होने के बाद आकलन वर्ष के खत्म होने के छह माह में एक स्क्रूटनी नोटिस भेजता है। आकलन वर्ष वित्त वर्ष अगला साल होता है। वित्त वर्ष 2018-19 के लिए आकलन वर्ष 2019-20 होगा। लेकिन विसंगति पाए जाने पर पिछले सात साल के रिकॉर्ड भी मांगे जा सकते हैं। 

रिटर्न में गड़बड़ी पर जांच होगी -

रिटर्न के आंकड़ों में किसी तरह की गड़बड़ी पाई जाती है जिसकी राशि एक लाख रुपये से कम है तो ऐसी स्थिति में विभाग पिछले चार साल का रिटर्न मांग सकता है। वहीं यदि राशि में अंतर एक लाख रुपये से अधिक है तो पिछले छह आकलन वर्ष के रिटर्न का रिकॉर्ड आयकर मांग सकता है। छह आकलन वर्ष व्यवहारिक रूप में सात वित्तीय वर्ष के समान है।

नोटिस का जवाब दें, घबराएं नहीं -

आयकर विभाग के नोटिस का मतलब स्पष्टीकरण मांगना और गलती को ठीक करना होता है। नोटिस मिला है जिसे देखकर लगता है कि सही नहीं है तो आप आयकर विभाग को इसकी शिकायत कर सकते हैं। आप ई-निवारण सिस्टम या केन्द्रीय शिकायत निवारण प्रणाली पर शिकायत कर सकते हैं। आयकर विभाग के रिफंड नोटिस के नाम पर फर्जी मेल को लेकर भी सावधानी जरूर बरतें।

विदेश में संपत्ति हो ज्यादा सावधानी जरूरी -

विदेश में कोई संपत्ति है तो आयकर विभाग पिछले 16 साल के टैक्स रिटर्न का दस्तावेज मांग सकता है। वहीं आयकर विभाग की जांच में यह पता चलता है कि आपने टैक्स रिटर्न में 50 लाख रुपये से अधिक की राशि या संपत्ति की ब्योरा नहीं दिया है तो वह 7 से 10 साल के टैक्स रिर्टन का दस्तावेज मांग सकता है। ऐसे में विदेश में परिसंपत्ति के रिकॉर्ड को भी अनदेखा न करें।

दस्तावेज संभालने की इसलिए जरूरत -

शेयर, म्यूचुअल फंड और प्रॉपर्टी में छोटी अवधि का पूंजीगत लाभ कर और लंबी अवधि का पूंजीगत लाभ कर लगता है। ऐसे में आप यदि शेयर, म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं या प्रॉपर्टी में निवेश किया है तो कम से कम सात साल के टैक्स रिटर्न का दस्तावेज संभालकर रखें। आप रिटर्न के दस्तावेज को कागज के रूप में रखने के साथ उन्हें डिजिटल रूप में भी रख सकते हैं। डिजिटल रूप में तीन तरह से दस्तावेज को रख सकते हैं। पहला उन्हें स्कैन करके या फोटो खीचकर पेन ड्राइव या मोबाइल में रख सकते हैं। आप स्कैन दस्तावेज को ईमेल पर भी सुरक्षित रख सकते हैं।

ITR भरने के लिए अहम है ये तारीख, नहीं तो देनी पड़ सकती है पेनल्टी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Income tax department can ask for a record of seven years income tax return