DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिजनेस  ›  एफडी तुड़वाने जा रहे हैं तो रुकें, मानें यह सलाह कम होगा नुकसान
बिजनेस

एफडी तुड़वाने जा रहे हैं तो रुकें, मानें यह सलाह कम होगा नुकसान

लाइव मिंट,नई दिल्लीPublished By: Drigraj Madheshia
Mon, 31 May 2021 08:45 AM
एफडी तुड़वाने जा रहे हैं तो रुकें, मानें यह सलाह कम होगा नुकसान

कोरोना महमारी की दूसरी लहर के कारण लाखों लोगों को अपनी नौकरी गंवानी पड़ी है। इससे आर्थिक संकट का सामना करने वाले लोगों की संख्या बढ़ गई है। लोग अपनी जरूरत के खर्च चलाने के लिए लोन लेने या जमा पूंजी को खर्च करने को मजबूर है। ऐसे में बहुत सारे लोग अपनी सावधि जमा (एफडी) तोड़कर पैसा निकाल रहे हैं। वित्तीय विशेषज्ञों का कहना है कि अगर कम पैसे की जरूरत है तो एफडी तोड़ने से बेहतर होगा उस पर लोन लेना।

यह भी पढ़ें: अच्छी खबर: नो क्लेम बोनस का इस्तेमाल नई गाड़ी में करना संभव

विशेषज्ञों का कहना है कि अगर आपकी एफडी 1 लाख रुपये की है और आपको 50 हजार रुपये की जरूरत है तो आपका एफडी पर लोन लेना सही रहेगा क्योंकि इससे आपकी सेविंग्स भी बची रहेगी और आपकी पैसों की जरूरत भी पूरी हो जाएगी। वहीं, अगर आपको एफडी के पूरे रुपयों की जरूरत है तो आपका समय से पहले एफडी तुड़वाना सही रहेगा क्योंकि इससे आपको आपका पैसा थोड़ी पैनल्टी के बाद मिल जाएगा। एफडी पर लोन में 80 से 90% पैसा लोन के रूप में मिलता है।
बैंक किस ब्याज दर पर दे रहा लोन

बैंक लोन की ब्याज दर (%) अधिकतम लोन

  • एसबीआई एफडी रेट + 1% एफडी के 90% तक
  • पंजाब नेशनल बैंक एफडी रेट + 1% एफडी के 95% तक
  • एक्सिस बैंक एफडी रेट + 2% एफडी के 85% तक
  • एचडीएफसी बैंक एफडी रेट + 2% एफडी के 90% तक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा एफडी रेट + 2% एफडी के 90% तक
  • इंडियन बैंक एफडी रेट + 2% एफडी के 90% तक
  • आईसीआईसीआई बैंक एफडी रेट + 2-3% एफडी के 90% तक
  • फेडरल बैंक एफडी रेट + 2 एफडी के 90% तक

मिलता है कम ब्याज

अगर आप समय से पहले एफडी तुड़वा रहे हैं तो आपको उस दर से जिस पर आपने एफडी की है वह ब्याज नहीं मिलता है। मान लीजिए कि आपने 2018 में पांच साल के लिए 1 लाख रुपये की एफडी तीन साल पहले 8.5% की दर से की, लेकिन आप अब तीन साल बाद उसे निकालना चाहते हैं और अभी 7.5% की दर से सालाना ब्याज मिल रहा है, तो ऐसे में बैंक आपके पैसों पर 8.5% की दर से नहीं बल्कि की 7.5% की दर से ब्याज देगा।

जुर्माना भी देना होगा

एसबीआई में अगर कोई व्यक्ति पांच लाख रुपये की एफडी कराता है और परिपक्व होने से पहले पैसा निकालता है तो उसे 0.50% जुर्माना देना होगा। इसी तरह 5 लाख से ज्यादा और एक करोड़ से कम की एफडी पर 1% जुर्माना देना होगा।
 

संबंधित खबरें