DA Image
10 फरवरी, 2021|11:30|IST

अगली स्टोरी

बैंक खाता है खाली तो न निकालें ATM से कैश, वर्ना आपको बैंक को चुकाना होगा चार्ज

atm cloning

कई बार बैंकों के नियम की सही जानकारी नहीं होने पर उपभोक्ताओं को शुल्क चुकाना पड़ता है। बैंक से जुड़े ऐसे ही एक अहम नियम की जानकारी हम आपको दे रहे हैं। अगर आपके बचत खाता में पैसा नहीं और एटीएम से निकासी करने जाते और वह असफल हो जाता है तो भी आपको शुल्क चुकाना होगा। सरकारी समेत निजी बैंक इसके लिए शुल्क वसूलते हैं। आइए जानते हैं कि कौन से बैंक कितना शुल्क वसूलता है।

भारतीय स्टेट बैंक

अगर आप भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहक हैं और आपके बचत खाता में पैसा नहीं है। इस स्थिति में अगर आप गलती से एटीएम से निकासी करने जाते हैं और वह असफल हो जाता है तो आपको 20 रुपया प्लस जीएसटी देना होगा।

एचडीएफसी बैंक

निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक भी खाते में पैसा नहीं होने की स्थिति में एटीएम ट्रांजेक्शल असफल होने पर शुल्क वसूलता है। एचडीएफसी के ग्राहक अगर किसी दूसरे बैंक का एटीएम का इस्तेमाल करते हैं तो प्रति ट्रांजैक्शन 25 रुपये और टैक्स चुकाना होगा।

आईसीआईसीआई बैंक

आईसीआईसीआई बैंक खाता में पैसा नहीं होने के बाद दूसरे बैंक के एटीएम या पीओएस से निकासी असफल होने पर प्रति ट्रांजैक्शन 25 रुपये शुल्क वसूलता है।

कोटक और एक्सिस बैंक

निजी क्षेत्र के बैंक कोटक महिंद्रा बैंक और यस बैंक खाते में पैसा नहीं होने की स्थिति में एटीएम से निकासी असफल होने पर 25 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन शुल्क वसूलते हैं। एक्सिस बैंक भी इस हालात में अपने ग्राहकों से 25 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन चार्ज करता है।

इस तरह शुल्क देने से बचें

इन दिनों देश के करीब सभी बैंक अपने ग्राहकों को बचत खाता में जमा रकम जानने की सुविधा देते हैं। आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से बैंक के दिए गए फोन नंबर पर मिस्ड कॉल कर या एसएमएस भेजकर यह जानकारी चंद मिनटों में प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही मोबाइल एप के जरिये भी आप बैलेंस चेक कर सकते हैं। अगर कोई यूपीआई एप खाते से जुड़ा है तो उससे भी बैलेंस की जानकारी ले सकते हैं।

 

एक घंटे में 55,823 ITR फाइल, 31 दिसंबर तक भर दें नहीं तो लगेगा जुर्माना

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:If the account is empty and ATM withdrawal fails the bank charge fees know rules