Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़how to connect Ram Mandir Pran Pratistha ceremony with Adani Wilmar Havells Dabur PVR ITC

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए अडानी से डाबर तक कौन क्या कर रहा है?

Ram Mandir Pran Pratistha: अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में उद्योग और कारोबार जगत भी जश्न में शामिल है।अडानी प्रसाद बनाने के काम मे जुटी है तो डाबर मुनाफे में हिस्सा दान कर रही है।

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए अडानी से डाबर तक कौन क्या कर रहा है?
Drigraj Madheshia नई दिल्ली, एजेंसी।, Mon, 22 Jan 2024 05:29 AM
हमें फॉलो करें

अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह देश के विभिन्न उद्योगों और कारोबारों में नया उत्साह भर रहा है। इस आयोजन और उसके बाद अयोध्या के विकास की उभरती तस्वीर की कल्पना मात्र से ही इस क्षेत्र में कार्यरत कंपनियों के शेयरों में तेज उछाल देखने को मिल रहा है। पिछले दो हफ्ते से रेलवे बुकिंग कंपनी आईआरसीटीसी, प्रवेग, एलएंडटी, हैवल्स जैसी कंपनियों के शेयरों में तेज उछाल देखने को मिल रहा है।

यही नहीं उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा रामनगरी अयोध्या के विकास की योजना को देखते हुए यहां प्रॉपर्टी बाजार में अभूतपूर्व उछाल देखने को मिल रहा है। हाल में अमिताभ बच्चन द्वारा सरयू के पास जमीन खरीदने की खबर भी आई है। जानकार बता रहे हैं कि जब से लोगों के पता चला है कि उत्तर प्रदेश सरकार की योजना इस नगरी को प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की है, उसके बाद से यहां की संपत्ति में करीब 900 फीसदी का उछाल आ चुका है। इसकी वजह यह है कि देश और विदेश के नामी ब्रांड इस शहर में अपनी पहुंच बनाने की तैयारी में जुट गए हैं। जहां तक आयोजन की बात है देश की नामी कंपनियां अपने-अपने क्षेत्र की विशेषज्ञता को लेकर यहां पर डेरा डाल चुकी हैं।

उपभोक्ता क्षेत्र में काम करने वाली कई कंपनियों ने बड़ी संख्या में होर्डिंग, गेट ब्रांडिंग, शॉपबोर्ड और कियोस्क लगाकर अयोध्या राम मंदिर के लिए पवित्र शहर में आने वाले भक्तों को उत्पाद पेश करके 'ऑन-ग्राउंड मार्केटिंग' अभियान शुरू किया है।

ऐप आधारित कैब सेवा देने वाली कंपनी उबर ने शहर में ईवी ऑटो को हरी झंडी दिखाकर अयोध्या में परिचालन शुरू कर दिया है। उबरगो और इंटरसिटी उबर राइड्स की भी ऐसा ही करने की योजना है। वहीं पर्यटकों की संख्या बढ़ने की उम्मीद के मुताबिक ओयो भी बड़ी संख्या में अपनी होटल चेन यहां खोलने पर काम कर रही है।

अडानी विल्मर ने संभाला मोर्चा: अडानी विल्मर अपने फॉर्च्यून ब्रांड के साथ प्रसाद बनाने के काम मे जुटी है। कंपनी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अंग्शु मलिक ने कहा, अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा प्रत्येक भारतीय के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर है। फॉर्च्यून की ब्रांड भावना को ध्यान में रखते हुए हमें इस उत्सव का हिस्सा बनने पर गर्व है, क्योंकि यह ऐतिहासिक कार्यक्रम एक त्योहार के समान है, जो भारतीय होने की अनुभूति का जश्न है।

हैवेल्स ने प्रकाश व्यवस्था संभाली: हैवेल्स इंडिया के प्रेसिडेंट, श्री पराग भटनागर ने कहा, हमने मंदिर की प्रकाश व्यवस्था के ऐतिहासिक प्रोजेक्ट को सफलतापूर्वक पूरा किया। यह बेहद गर्व का का विषय है कि हैवेल्स ने अपने असाधारण लाइटिंग सॉल्युशन के माध्यम से श्री राम मंदिर की भव्यता को और भी ज्यादा समृद्ध करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

पीवीआर दिखा रहा लाइव: मल्टीप्लेक्स ऑपरेटर पीवीआर आईनॉक्स ने 22 जनवरी, 2024 को 70 से अधिक शहरों में अपने 160 सिनेमा स्क्रीन पर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लाइव दिखाने की घोषणा की है। पीवीआर आईनॉक्स के को-सीईओ गौतम दत्ता ने कहा कि वास्तव में अनूठे तरीके से भक्तों को इस उत्सव से जोड़ने में सक्षम होना हमारे लिए सौभाग्य की बात होगी। उम्मीद है कि हम मंदिर की गूंज, मंत्र और मन को छूने वाले दृश्यों को दिखाकर भारत के समकालीन इतिहास में सबसे प्रतीक्षित क्षणों को जीवंत कर पाएंगे।

डाबर मुनाफे में हिस्सा दान कर रही: कुछ कंपनियां समारोह के दौरान क्षेत्र में बिक्री से अपने लाभ का एक हिस्सा पूरे अयोध्या शहर में विशेष खाद्य पदार्थ वितरित करने के लिए दान कर रही हैं। डाबर इंडिया 17 जनवरी से 31 जनवरी तक अपने उत्पादों की बिक्री से होने वाले मुनाफे का एक हिस्सा श्री जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को दान करेगी। डाबर इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मोहित मल्होत्रा, 'राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा निस्संदेह हमारे इतिहास के सबसे महत्वपूर्ण अवसरों में से एक है।

आईटीसी छह माह तक धूप दान करेगी: आईटीसी श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के साथ जुड़ी है और इसके अगरबत्ती ब्रांड मंगलदीप ने मंदिर के उद्घाटन की तारीख से छह महीने की अवधि के लिए धूप दान किए हैं। इसके अलावा 'राम की पेढ़ी' पर दो अगरबत्ती स्टैंड भी लगाए गए हैं, जहां भक्त अगरबत्ती जला सकते हैं और भगवान राम की पूजा कर सकते हैं। आईटीसी के अगरबत्ती कारोबार के मुख्य कार्यकारी गौरव तायल ने कहा, 'मंगलदीप का इस ऐतिहासिक तथा पवित्र कार्यक्रम का हिस्सा बनना वास्तव में सम्मान की बात है।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें