ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessHow to check bank account for redemption of Sovereign Gold Bond first

पहले सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के रिडंप्शन के लिए बैंक खाते की जांच कैसे करें

How to redeem SGB: सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड मेच्योरिटी की राशि बैंक खाते में जमा की जाएगी। यदि कोई विवरण, जैसे खाता संख्या या ईमेल पता बदलता है, तो निवेशक तुरंत बैंक, एसएचसीआईएल, डाकघर को सूचित करें।

पहले सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के रिडंप्शन के लिए बैंक खाते की जांच कैसे करें
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 30 Nov 2023 01:42 PM
ऐप पर पढ़ें

How to redeem SGB: भारतीय रिजर्व बैंक ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (SGB) स्कीम 2015 की पहली सीरीज की मेच्योरिटी आज पूरी हो रही है। 30 नवंबर, 2023 यानी आज देय अंतिम मेच्योरिटी की कीमत 20 से 24 नवंबर, 2023 सप्ताह के लिए सोने के औसत बंद भाव के आधार पर एसजीबी की 6,132 रुपये प्रति यूनिट होगी। बता दें एसजीबी की इस सिरीज के लिए लोगों ने 2,684 रुपये प्रति ग्राम की दर से सोना खरीदा था।

ग्राहकों को एसजीबी जारी होने की तारीख पर होल्डिंग सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा। होल्डिंग प्रमाणपत्र शाखाओं से प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा अगर आपने आवेदन पत्र में ई-मेल आईडी डाला है तो आरबीआई से आपके ई-मेल आईडी पर सर्टिफिकेट आएगा।

रिडंप्शन की राशि पाने के लिए बैंक खाते की जांच कैसे करें

एसजीबी पर आरबीआई के अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के अनुसार, मेच्योरिटी से एक महीने पहले निवेशक को बांड की आगामी परिपक्वता के बारे में सूचित किया जाएगा। परिपक्वता यानी मेच्योरिटी डेट पर रिकॉर्ड में दी गई जानकारी के अनुसार मेच्योरिटी की राशि बैंक खाते में जमा की जाएगी। यदि कोई विवरण, जैसे खाता संख्या या ईमेल पता बदलता है, तो निवेशक को तुरंत बैंक, एसएचसीआईएल, डाकघर को सूचित करना चाहिए।

गौरतलब है कि 2.75% का ब्याज अर्धवार्षिक रूप से बैंक खाते में जमा किया जाएगा, आप यह देखने के लिए अपने बैंक विवरण की जांच कर सकते हैं कि कौन सा बैंक एसजीबी से जुड़ा हुआ है। निवेशकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि जिस खाते का जिक्र उन्होंने आवेदन के समय किया है, वह बैंक खाता सक्रिय है या नहीं। यदि निवेश बैंक, डीमैट खाते के माध्यम से किया गया है, तो आप लॉगिन कर डीटेल्स देख सकते हैं।

मेच्योरिटी की राशि लिंक किए गए बैंक खाते में ही भेजी जाएगी। आईसीआईसीआई बैंक एफएक्यू के अनुसार, "ब्याज और मोचन आय दोनों को आवेदन पत्र में दिए गए बैंक खाता संख्या में जमा किया जाएगा।" ब्याज निवेशक के बैंक खाते में अर्धवार्षिक रूप से जमा किया जाएगा और अंतिम ब्याज मूलधन के साथ परिपक्वता पर देय होगा।

एसजीबी विवरण प्रत्येक वित्तीय वर्ष में, आरबीआई एसजीबी किश्तें जारी करने की घोषणा करता है। अब तक, एक निवेशक प्रत्येक वित्तीय वर्ष में प्रति व्यक्ति 4 किलोग्राम तक सीमित है, जिसमें न्यूनतम निवेश 1 ग्राम है।

किसी व्यक्ति को निवेश करने के लिए आवेदन पत्र में यह बताना होगा कि वह कितना निवेश करना चाहता है। निवेश किए गए सोने की मात्रा आरबीआई द्वारा जारी मूल्य से निर्धारित होती है। शेष राशि निवेशक के बैंक खाते में वापस कर दी जाती है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें