DA Image
2 नवंबर, 2020|12:02|IST

अगली स्टोरी

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बीच कैसी रहेगी शेयर बाजार की चाल, जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

The BSE Sensex and NSE’s Nifty 50 closed higher on Wednesday. Photo: Reuters

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव तथा कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से वैश्विक वृद्धि को लेकर अनिश्चितता के चलते इस सप्ताह शेयर बाजार दबाव में रहेंगे। विश्लेषकों ने यह राय जताई है। विश्लेषकों का कहना है कि अमेरिका और यूरोप में हाल में कोविड-19 संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के बाद कई यूरोपीय अर्थव्यवस्थाओं में लॉकडाउन लगाया गया है। इससे निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है।

बड़ी कंपनियों के तिमाही नतीजे भी करेंगे प्रभावित

बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 2.63 प्रतिशत नीचे आया। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में 2.41 प्रतिशत की गिरावट आई।  हालांकि, इसके साथ ही विश्लेषकों का मानना है कि कंपनियों के उम्मीद से बेहतर तिमाही नतीजों तथा आर्थिक आंकड़ों में सुधार से बाजार को समर्थन मिलेगा। सप्ताह के दौरान पंजाब नेशनल बैंक तथा एचडीएफसी जैसी बड़ी कंपनियों के तिमाही नतीजों तथा वाहन बिक्री के आंकड़ों से भी बाजार को दिशा मिलेगी। 

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज का अनुमान

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ''अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव तथा यूरोप में कोविड-19 के बढ़ते मामलों की वजह से आगे चलकर बाजार दबाव में रहेगा। इस सप्ताह अमेरिका का चुनाव तथा फेडरल रिजर्व की बैठक वैश्विक बाजारों का रुख तय करेगी। उन्होंने कहा कि इसके अलावा निवेशकों की निगाह अमेरिका के गैर-कृषि रोजगार के आंकड़ों तथा अमेरिका, ब्रिटेन और चीन के पीएमआई आंकड़ों पर भी रहेगी। 

जियोजीत और रेलिगेयर ब्रोंकिंग के एक्सपर्ट की राय

इसी तरह की राय जताते हुए जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि अमेरिका में राजनीतिक घटनाक्रमों की वजह से आगे बाजार दबाव में रहेगा। इस सप्ताह विनिर्माण और सेवाओं के पीएमआई आंकड़े आने हैं, जो बाजार को प्रभावित करेंगे। रेलिगेयर ब्रोंकिंग के उपाध्यक्ष-शोध अजित मिश्रा ने कहा, ''बाजार सोमवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज के नतीजों पर प्रतिक्रिया देगा। उसके बाद आगे बाजार की दिशा अमेरिकी चुनावों तथा अन्य वैश्विक घटनाक्रमों पर निर्भर करेगी।' रिलायंस इंडस्ट्री ने शुक्रवार को दूसरी तिमाही के नतीजों की घोषणा की थी। कंपनी के दूसरी तिमाही के शुद्ध लाभ में 15 प्रतिशत की गिरावट आई है। 

यह भी पढ़ें: Gold Price Review: सोना 5500 रुपये तक हो चुका है सस्ता, करवा चौथ पर जानें क्या होगा

सैमको सिक्योरिटीज की वरिष्ठ शोध विश्लेषक निराली शाह ने कहा, ''सप्ताह के दौरान घरेलू बाजारों का रुख वैश्विक बाजारों से तय होगी। इस सप्ताह अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम है। इस सप्ताह एचडीएफसी, पंजाब नेशनल बैंक, अडाणी पोर्ट्स, सनफार्मा, ल्यूपिन, बीएचईएल, सिप्ला और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के तिमाही परिणाम आने हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:How stock market move between the presidential elections in America know what the experts say