DA Image
25 मई, 2020|1:53|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संकट से सस्ते होंगे मकान, कीमतों में 20 फीसद तक हो सकती है कमी, जमीन के रेट 30% तक गिरने की आशंका

crisil  epidemic  when will the lockdown end  corona  property  real estate  flats rate

कोरोना संकट से देश में मकानों की कीमत 10 से 20 प्रतिशत तक गिर सकती है। इतना ही नहीं जमीन की कीमत 30 प्रतिशत तक सस्ती हो सकती है। यह आकलन प्रॉपर्टी रिसर्च फॉर्म लियास फोरास की है। कोरोना संकट घर घरीदने वालों के लिए अच्छा अवसर हो सकता हहै। वहीं एनॉराक की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण इस साल देश के सात बड़े शहरों में घरों की बिक्री में 35 प्रतिशत की गिरावट आ सकती है। ये शहर हैं दिल्ली-एनसीआर ( गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, फरीदाबाद), मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर), कोलकाता, चेन्नई, बेंगलुरु, पुणे और हैदराबाद।

सीमेंट मांग 20-25 प्रतिशत तक घट सकती है

कोविड-19 महामारी की वजह से यदेश में सीमेंट मांग में चालू वित्त वर्ष के दौरान 20- 25 प्रतिशत तक गिरावट आ सकती है। उद्योग का कहना है कि यदि मई तक इस महामारी पर नियंत्रण नहीं हुआ अैर निर्माण गतिविधियां वर्ष की दूसरी तिमाही तक ही शुरू हो पाईं तो सीमेंट खपत में भारी गिरावट आने की आशंका है। क्रिसिल ने सोमवार को यह जानकारी दी है।

यह भी पढ़ें:  कोरोना का प्रभाव: मुंबई क्षेत्र में फरवरी-मार्च के दौरान फ्लैट्स की बुकिंग 78% गिरी, आने वाले समय में सस्ते हो सकते हैं मकान

लॉकडाउन के बावजूद कोविड -19 संक्रमित मामलों की संख्या में वृद्धि हुई है और इसका आंकड़ा 4,000 अंक से आगे निकल गया है, जबकि मरने वालों की संख्या 100 को पार कर गई है।

मई तक नियंत्रित नहीं हुई महामारी तो पड़ेगी भारी

क्रिसिल ने कहा है कि यदि भारत मई तक महामारी को नियंत्रित करने में असमर्थ रहता है, तो भारत में सीमेंट की मांग इस वित्त वर्ष में अभूतपूर्व रूप से 20-25 प्रतिशत तक घट सकती है। इस महामारी के कारण जून तक भी सामाजिक दूरी रखने के उपायों को जारी रखना पड़ सकता है और निर्माण गतिविधि केवल वित्तवर्ष 2021 की दूसरी तिमाही में ही शुरू हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के कारण सात बड़े शहरों में सस्ते होंगे मकान, बिक्री में हो सकती है 35 प्रतिशत तक गिरावट

हालांकि, क्रिसिल ने माना कि अगर अप्रैल के अंत तक लॉकडाउन और अन्य सामाजिक दूरी बनाये रखने के उपाय जारी रहते हैं और मध्य मई से निर्माण गतिविधि फिर से शुरू हो जाती हैं तो वित्तवर्ष के दौरान मांग में गिरावट 10-15 प्रतिशत तक ही रह सकती है। एजेंसी ने आगे कहा है कि धीमी मांग रहने के बावजूद, सीमेंट उद्योग ने वित्त वर्ष 2019- 20 में 25 रुपये प्रति बैग की मूल्य वृद्धि हासिल की हे। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Homes cheaper due to Corona crisis prices may decrease by 20 percent rate of land is expected to fall by 30 pct