ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसइस दिग्गज बैंक से हुई एक गलती: अब 4,468 कस्टमर के खाते से निकाले जाएंगे पैसे, जानिए मामला?

इस दिग्गज बैंक से हुई एक गलती: अब 4,468 कस्टमर के खाते से निकाले जाएंगे पैसे, जानिए मामला?

भारत के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक एचडीएफसी बैंक लिमिटेड (HDFC Bank) से एक तकनीकी गलती हो गई है। इस टेक गड़बड़ी के चलते हजारों ग्राहकों के खाते में लगभग 1,000 करोड़ रुपये ट्रांसफर हो गए।

इस दिग्गज बैंक से हुई एक गलती: अब 4,468 कस्टमर के खाते से निकाले जाएंगे पैसे, जानिए मामला?
Varsha Pathakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 01 Jul 2022 06:18 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारत के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक एचडीएफसी बैंक लिमिटेड (HDFC Bank) से एक तकनीकी गलती हो गई है। इस टेक गड़बड़ी के चलते हजारों ग्राहकों के खाते में लगभग 1,000 करोड़ रुपये ट्रांसफर हो गए। अब बैंक उन पैसों को पाने के लिए इन खातों से वसूली कर रहा है। मिंट की रिपोर्ट के मुताबिक, HDFC बैंक 4,468 ग्राहक खातों से लगभग 100 करोड़ इकट्ठा करने की कोशिश कर रहा है।
 
ये ग्राहक कुछ समय के लिए बन गए करोड़पति
तकनीकी फॉल्ट के चलते HDFC के कई ग्राहक कुछ समय के लिए करोड़पति बन गए थे क्योंकि उनके खाते में करोड़ों रुपये ट्रांसफर हो गए थे। हालांकि, अब बैंक अलर्ट हो गया है और उन रुपयों की वसूली कर रहा है। अब तक बैंक ने करीबन 4,515 ग्राहक के अकाउंट से लगभग 126 करोड़ रुपये निकाले हैं। 

यह भी पढ़ें- इन पेनी स्टॉक ने निवेशकों को किया मालामाल, 6 महीने में दिया 2800% तक का रिटर्न, आपके पोर्टफोलियो में हैं क्या?

ग्राहक नहीं कर रहे सपोर्ट
एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, वसूली प्रक्रिया में कुछ ग्राहक सहयोग नहीं कर रहे हैं। कई ग्राहक ऐसे हैं जिन्होंने बैंक द्वारा उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराई है। रिपोर्ट में एक सूत्र के हवाले से कहा गया है कि बैंक को पैसों की वसूली के लिए कानूनी उपायों का सहारा लेना पड़ सकता है। 

चेन्नई की है घटना
आपको बता दें कि यह घटना चेन्नई के त्यागराय नगर के उस्मान रोड पर एक शाखा में सिस्टम अपग्रेड के दौरान हुई। जहां तकनीकी खराबी के कारण कुछ ग्राहकों को कथित तौर पर करोड़ों रुपये खाते में आ गए थे। इसके बाद बैंक ने मई में लगभग 100 बैंक खातों को अस्थाई तौर पर बंद कर दिया था।

यह भी पढ़ें- सरकार के इस फैसले के बाद टूट गया राकेश झुनझुवाला का फेवरेट स्टॉक, इतना हो गया भाव 

मार्च में आरबीआई ने हटाया था प्रतिबंध
आपको बता दें कि एचडीएफसी बैंक अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर बार-बार तकनीकी गड़बड़ियों के लिए आरबीआई के निशाने पर था। आरबीआई ने इस साल मार्च में प्रतिबंध हटा लिया था। लगभग ढाई साल पहले, केंद्रीय बैंक ने HDFC बैंक को सभी डिजिटल लॉन्च और क्रेडिट कार्ड ग्राहकों की नई सोर्सिंग को अस्थायी रूप से रोकने का आदेश दिया था।
 

epaper