DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैदियों से मिले प्रमोद गोयल, कहा- तकनीक के इस्तेमाल को और बढ़ाएगा हलसा

हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण (हलसा) के सदस्य सचिव प्रमोद गोयल गुरुवार को गुरुग्राम पहुंचे। उन्होंने यहां जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (डालसा) द्वारा संचालित विभिन्न कार्यक्रमों को जायजा लिया। उन्होंने डालसा सचिव नरेंद्र सिंह के साथ भोंडसी जेल का दौरा भी किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमें प्रौद्योगिकी का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करना चाहिए। उन्होंने जेल में मैन्युअल रजिस्टर को बंद कर तकनीक का प्रयोग करने का निर्देश दिया। कहा कि इसके लिए कंप्यूटर लगाया जाए। इससे कानूनी सहायता के लिए आवेदन करने वालों को जल्द से जल्द सहायता मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि इस तरह के छोटे छोटे बदलाव करना बहुत जरूरी है। इस दौरान उन्होंने कहा कि हलसा हर साल प्रदेश में 25 लाख बच्चों को कानून की जानकारी देता है। इससे बच्चों और उनके अभिभावकों को काफी मदद मिल रही है। उन्होंने कहा कि जेल में अगर किसी कैदी को डालसा से कानूनी मदद लेनी होती है। उसके लिए वह कैदी पहले आवेदन करता है और उसके बाद जेल प्रशासन डालसा के पास भेजता है। जेल प्रशासन द्वारा हफ्ते में दो बार हार्ड कॉपी भेजी जाती है और कई बार ई-मेल का इस्तेमाल भी होता है। लेकिन इस प्रक्रिया को बदल कर इसमें तकनीक का इस्तेमाल होना चाहिए। इससे सूचनाओं के आदान प्रदान में तेजी आएगी। 

कैदियों से की मुलाकात:  
हलसा सचिव प्रमोद गोयल और डालसा सचिव नरेंद्र सिंह ने भोंडसी जेल में भ्रमण के दौरान कैदियों से मुलाकात की। कई कैदियों ने अपनी समस्याएं बताई, तो कुछ कैदियों ने वकीलों पर रुपये लेने के आरोप भी लगाए। इसके अलावा दस कैदियों ने डालसा से कानूनी मदद की मांग की। हलसा सचिव ने जेल और डालसा के बीच  संपर्क की प्रक्रिया को भी जानने का प्रयास किया। इसमें देखा कि संपर्क में कितना समय लगता है। एक दिवसीय दौरे में हलसा सचिव प्रमोद गोयल ने जेल में कैदियों के लिए चलाई जा रही वोकेशनल प्रशिक्षण की सराहना की। उन्होने कहा कि जेल प्रशासन द्वारा बेहतर ढ़ग से कैदियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसके अलावा डालसा द्वारा चलाए जा रहे कानूनी जागरूकता कार्यक्रम से भी वह संतुष्ट दिखे। उन्होंने कहा कि डालसा बेहतर ढंग से लोगों को जागरूक करने का काम कर रही है।

366 लोगों को दी सहायता:  
इस मौके पर डालसा सचिव नरेंद्र सिंह ने बताया कि डालसा के प्रति लोगों का विश्वास बढ़ रहा है और डालसा में मदद लेने के लिए लोग अपनी इच्छा जता रहे हैं। पिछले तीन महीने में डालसा ने 366 लोगों को कानूनी सहायता दी है। अब तक डालसा द्वारा 928 लोगों को कानूनी सहायता मुहैया करवाई जा चुकी है। गुरुग्राम में 142 स्कूलों में कानूनी जागरूकता क्लब चलाए जा रहे हैं।

कैसे बनाएं विश्वास? 
जेल से दौरा करने के बाद सचिव प्रमोद गोयल ने डालसा कार्यालय का दौरा किया। इसके बाद वह डालसा के पैनल वकील,पैरा लीगल वालंटियर और मध्यस्थ अधिवक्ताओं से मिले और उनसे बातचीत की। उनकी समस्याओं के बारे में पूछा और उनको बताया गया कि कैसे आप अपने लोगों में विश्वास स्थापित करें, जिससे लोग ज्यादा से ज्यादा आपके पास कानूनी मदद के लिए आएं। आप लोगों में विश्वास पैदा करेंगे, तभी मदद के लिए ज्यादा लोग आएंगे।

हरियाणा में 'महागठबंधन' लगभग तय, बस ऐलान बाकी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Haryana State Legal Services Authority member secretary talk about techniques