DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

GST: उद्यमियों को 2017-18 का रिटर्न भरने से छूट मिलेगी

छोटे कारोबारियों को वित्त वर्ष 2017-18 का सालाना जीएसटी रिटर्न भरने से छूट मिल सकती है। तकनीकी दिक्कतों के चलते सरकार फैसला लेने का मन बना रही है। अंतिम फैसला 20 सितंबर को गोवा में होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक में लिया जाएगा।

सूत्रों ने ‘हिंदुस्तान’ को बताया कि वित्त मंत्रालय इस पर विचार कर रहा है। इससे कारोबारियों को  सालाना रिटर्न भरने की माथापच्ची नहीं करनी पड़े। कारोबारियों को जीएसटीआर 9, जीएसटीआर 9ए और 9सी भी नहीं भरना पड़ेगा। मिली जानकारी के मुताबिक सालाना पांच करोड़ तक के टर्नओवर वाले कारोबारियों को ये राहत दी जा सकती है। 40 लाख कारोबारी इस दायरे मेंे आते हैं।     सरकार के पास कारोबारियों के मासिक और तिमाही रिटर्न के आंकड़े पहले से ही मौजूद होते हैं। उनके आधार पर ही सरकार धोखाधड़ी का अंदाजा लगा सकती है। जीएसटी नेटवर्क पर इस समय नई ई इनवॉयसिंग व्यवस्था को तेजी से बनाने का दबाव है। 

तकनीकी दिक्कतों से तारीख आगे बढ़ाई
दो तरह की व्यवस्था बनाने की दिक्कतों के चलते जीएसटी काउंसिल के सामने सालाना रिटर्न भरने की समस्या को दूर करने प्रस्ताव रखा जाएगा। तकनीकी दिक्कतों के चलते ही जीएसटी रिर्टन भरने की अंतिम तारीख को 30 नवंबर तक बढ़ाया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:GST Council likely to extend date of filing annual return audit report for FY19