DA Image
3 सितम्बर, 2020|11:32|IST

अगली स्टोरी

सोना-चांदी ने रचा इतिहास, दिल्ली में सोना 50920 रुपये के नए रिकॉर्ड उच्चस्तर पर तो चांदी 60000 के पार

                                                                         photo credit  livemint

Gold Price Today 22nd July 2020: देश भर के सर्राफा बाजारों में आज सोने-चंदी की कीमतों में आग लगी हुई है। आज यानी बुधवार सुबह 24 कैरेट सोने का हाजिर भाव 50220 रुपये प्रति 10 ग्राम पर खुला और 50181 रुपये पर बंद हुआ। वहीं चांदी ने मंगलवार की तरह ही बड़ी छलांग लगाई है। चांदी 5193 रुपये प्रति किलो महंगी होकर 60043 रुपये प्रति किलो के रेट से खुली, जबकि बाद में थोड़ी नरम होकर 59170 पर बंद हुई।  वहीं अंतराष्ट्रीय बाजार में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के बीच बुधवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 430 रुपये की छलांग के साथ 50,920 रुपये प्रति 10 ग्राम के नए रिकॉर्ड उच्चस्तर पर पहुंच गया। इससे पूर्व के कारोबारी सत्र में सोना 50,490 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। अगर भारतीय वायदा बाजार में सोने-चांदी की कीमतों की बात करें तो आज दोनो धातुएं नई ऊंचाई पर थीं।

यह भी पढ़ें: तेरा तोहफा कैसे होगा कबूल? अब तो चांदी पर भी छाई महंगाई

इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट (ibjarates.com) के मुताबिक 22 जुलाई 2020 को देशभर के सर्राफा बाजारों सोने-चांदी के हाजिर भाव इस प्रकार रहे..

22 जुलाई का फाइनल रेट

धातु 22 जुलाई का रेट (रुपये/10 ग्राम) 20 जुलाई का रेट (रुपये/10 ग्राम)

रेट में बदलाव (रुपये/10 ग्राम)

Gold 999 (24 कैरेट) 50181 49440 741
Gold 995 (23 कैरेट) 49980 49242 738
Gold 916 (22 कैरेट) 45966 45287 679
Gold 750 (18 कैरेट) 37636 37080 556
Gold 585 ( 14 कैरेट) 29356 28922 434
Silver 999 59170 Rs/Kg 54850 Rs/Kg 4320 Rs/Kg

दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 50,920 रुपये के नए रिकॉर्ड उच्चस्तर पर

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ''दिल्ली में 24 कैरेट सोने की हाजिर कीमत 430 रुपये की तेजी के साथ नये रिकॉर्ड ऊंचाई को छू गईं। यह अंतरराष्ट्रीय बाजार के रुख के अनुरूप है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना लाभ दर्शाता 1,855 डॉलर प्रति औंस पर बोला गया जबकि चांदी का भाव 21.80 डॉलर प्रति औंस हो गया। उन्होंने कहा कि बुधवार को सोने की अंतरराष्ट्रीय हाजिर कीमत 1,850 डॉलर प्रति औंस के पार पहुंचने से यहां भी पीली धातु की लिवाली काफी बढ़ गई। पटेल ने कहा, अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि होने से निवेशकों ने सुरक्षित निवेश के विकल्प सर्राफा में लिवाली बढ़ाई है।

22 जुलाई सुबह का रेट

धातु 22 जुलाई का रेट (रुपये/10 ग्राम) 20 जुलाई का रेट (रुपये/10 ग्राम)

रेट में बदलाव (रुपये/10 ग्राम)

Gold 999 (24 कैरेट) 50220 49440 780
Gold 995 (23 कैरेट) 50019 49242 777
Gold 916 (22 कैरेट) 46002 45287 715
Gold 750 (18 कैरेट) 37665 37080 585
Gold 585 ( 14 कैरेट) 29379 28922 457
Silver 999 60043 Rs/Kg 54850 5193

 

क्यों बढ़ रहे सोने-चांदी के दाम

केडिया कमोडिटीज के डायरेक्टर अजय केडिया कहते हैं कि कोरोना वायरस का संक्रमण कम होने के बजाय बढ़ता जा रहा है। इससे शेयर बाजारों में जहां अनिश्चितता का माहौल है वहीं रियल एस्टेट भी पस्त पड़ा है। इस दौर निवेशकों के लिए सबसे सुरक्षित सोना ही नजर आ रहा है। निवेशकों का रुझान गोल्ड, गोल्ड ईटीएफ और बॉन्ड की तरफ बढ़ा है। यही वजह है कि सोने के रेट बढ़ते जा रहे हैं। वहीं कोरोनावायरस संक्रमण के कारण खनन कार्य प्रभावित होने और आपूर्ति बाधित होने से चांदी की कीमतों में ज्यादा तेजी देखी जा रही है।

latest gold silver price 22 july 2020

बेहतर रिटर्न की गारंटी बना सोना

साल 2001 के बाद से सोने ने प्रतिवर्ष 13 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। पिछले 10 साल में सोना 142 फीसद रिटर्न दे चुका है। वहीं पिछले 15 वर्षों में तो सोने ने प्रतिवर्ष 14.7 प्रतिशत का लाभ दिया है। पिछले 10 वर्षों में सोने ने प्रहर साल 10.1 प्रतिशत और पिछले पांच वर्षों में प्रति वर्ष 12.8 प्रतिशत का लाभ दिया है। वहीं दो साल में सोने ने 55% रिटर्न दिया, पिछले छह महीने में ही 24% तक बढ़ इसकी कीमत बढ़ चुकी है।

कौन खरीद रहा सोना

शेयर बाजार में गिरावट और अर्थव्यवस्था में संकट के दौर में तमाम फंड मैनेजर पोर्टफोलियो में सोने की हिस्सेदारी बढ़ाते हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि सोना सेफ हैवन इन्वेस्टमेंट यानी सुरक्षित निवेश विकल्प माना जाता है। केंद्रीय बैंक, फंड मैनेजर्स, स्वतंत्र निवेशक आदि ये सभी लोग पूरी दुनिया में अलग अलग एक्सचेंज पर सोने की खरीदारी कर रहे हैं । सोने के भाव अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी रिकॉर्ड उंचाई पर है । इसी वजह से भारत में सोने में तेजी देखने को मिल रही है।

सस्ता कब होगा

बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि जबतक कोरोना का संक्रमण दुनिया भर के देशों में बढ़ता रहेगा तब तक सोने की कीमतें कम होने के आसार नजर नहीं आ रहे। केडिया कमोडिटीज के डायरेक्टर केडिया कहते हैं कि सोने के दाम तभी गिरेंगे जब मार्केट में कोई कोरोना की वैक्सीन आ जाए और वह सफल भी हो। इसके अलावा भारत और चीन सोना नहीं खरीदते हैं तो दाम कुछ कम हो सकते हैं। फिर भी सोना 44000 से नीचे नहीं जाएगा।

चांदी का वायदा भाव भी 60,000 रुपये प्रति किलो के पार

मजबूत हाजिर मांग और वैश्विक संकेतों के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया, जिससे वायदा कारोबार में बुधवार को चांदी की कीमत 3,383 रुपये के उछाल के साथ 60,725 रुपये प्रति किग्रा हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के सितंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 3,383 रुपये अथवा 5.9 प्रतिशत के उछाल के साथ 60,725 रुपये प्रति किग्रा हो गयी जिसमें 15,445 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि घरेलू बाजार में तेजी के रुख के कारण कारोबारियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे चांदी वायदा कीमतों में तेजी आई। वैश्विक स्तर पर, न्यूयॉर्क में, चांदी की कीमत 5.07 प्रतिशत की तेजी के साथ 22.65 डॉलर प्रति औंस हो गई।

हाजिर मांग और वैश्विक संकेतों से सोना वायदा कीमतों में तेजी

हाजिर बाजार की मजबूत मांग के कारण सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की, जिससे वायदा बाजार में बुधवार को सोना 511 रुपये की तेजी के साथ 50,038 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अगस्त महीने में डिलीवरी सोना अनुबंध की कीमत 511 रुपये यानी 1.03 प्रतिशत की तेजी के साथ 50,038 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 7,357 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली से सोना वायदा कीमतों में तेजी आई। न्यूयॉर्क में सोना 0.90 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,860.50 डॉलर प्रति औंस हो गया।

इनपुट: एजेंसी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:gold silver price created new history gold rs 50000 and silver crossed rs 60000 in bullion market