DA Image
3 मार्च, 2021|4:42|IST

अगली स्टोरी

Gold Price Review: साेना ऑल टाइम हाई से 7114 रुपये सस्ता, चांदी 10216 रुपये नरम, जानें आगे कैसी रहेगी चाल

gold price today change silver price down by rs 859

दुनियाभर में कोविड-19 वैक्सीन लगने शुरू गए हैं।, डॉलर में तेजी, अमेरिका में जो बाइडेन का युग और शेयर बाजारों में रौनक से सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट देखने को मिल रही है। कोरोना काल में ऑल टाइम हाई पर पहुंच चुके सोने के हाजिर भाव में अब तक 7114 रुपये प्रति 10 ग्राम तक की कमी आ चुकी है और चांदी 10216 रुपये किलो सस्ती हो चुकी है। वहीं अगर इस साल की बात करें तो 1 जनवरी 2021 के मुकाबले सोना  1158 रुपये सस्ता हो चुका है, जबकि चांदी 1171 रुपये नरम हो चुकी है। एक जनवरी को सर्राफा बाजारों में सोने का औसत भाव 50298 रुपये पर बंद हुआ था और 22 जनवरी को यह 49140 रुपये पर बंद हुआ। वहीं चांदी जहां एक जनवरी को 66963 रुपये पर बिकी थी। 22 जनवरी को यह 65792 रुपये पर बंद हुई।

Gold ने अगस्त 2020  में तोड़ दिए थे सारे रिकॉर्ड

देशभर के सर्राफा बाजारों में सात अगस्त 2020 को गोल्ड का हाजिर भाव 56254 पर खुला। यह ऑल टाइम हाई था। इसके बाद शाम को यह थोड़ी गिरावट के बाद 56126 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ। जहां तक चांदी की बात करें तो इस दिन यह  76008 रुपये प्रति किलो के रेट से खुली थी और 75013 रुपये पर बंद हुई थी। बता दें चांदी का भाव एमसीएक्स पर 25 अप्रैल 2011 को रिकॉर्ड 73,600 रुपये प्रति किलो तक उछला था, जबकि हाजिर बाजार में चांदी का भाव 2011 में 77,000 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया था।  सोने का भाव 16 मार्च 2020 को 38,400 रुपये प्रति 10 ग्राम था।

पिछले एक हफ्ते ऐसी रही सोने-चांदी की चाल

तारीख और दिन सोने का शाम का रेट (रुपये/10 ग्राम)

चांदी का शाम का रेट (रुपये/ किलो ग्राम)

22 जनवरी 2021 (Friday) 49140 65792
21 जनवरी 2021 (Thursday) 49659 67160
20 जनवरी 2021 (Wednesday) 49262 65988
19 जनवरी 2021 (Tuesday) 49141 65801
18 जनवरी 2021 (Monday) 48969 64895
15 जनवरी 2021 (Friday) 49327 65420

स्रोत: IBJA

जारी रह सकता है उतार- चढ़ाव 

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंसियल सविर्सिज के जिंस शोध के उपाध्यक्ष नवनीत दमानी ने कहा कि हाल के दिनों में सोने का भाव ऊंचाई से गिरकर 50,000 रुपये के नीचे आया है, जबकि चांदी 60,000 से 65500 रुपये के दायरे में आई है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में इनमें उतार- चढ़ाव जारी रह सकता है। केडिया कैपिटल के डायरेक्टर और रिसर्च हेड अजय केडिया का कहना है कि स्टिमुलस पैकेज ने शेयर बाजारों के लिए स्टेरॉयड का काम किया। इससे जो तेजी आई, उसे नेचुरल तेजी नहीं कह सकते। जब कोरोना महामारी भारत में आई तो मार्केट गिरने लगे थे।

यह भी पढ़ें:चाय की प्याली में महंगाई की उबाल, महंगी हुई अरहर की दाल

केडिया कैपिटल के डायरेक्टर और रिसर्च हेड अजय केडिया इस तरह समझाते हैं,' 2007 में सोना 9 हजार रुपए प्रति दस ग्राम के आसपास था, जो 2016 में 31 हजार रुपए प्रति दस ग्राम तक पहुंच गया था। यानी नौ साल में तीन गुना से ज्यादा बढ़ोतरी। यह भी समझना होगा कि जब-जब ब्याज दरें घटती हैं, तब सोने में निवेश बढ़ता है। कोरोना वायरस महामारी की वजह से शेयर मार्केट में जो गिरावट आई थी, उससे बाजार पूरी तरह उबर कर काफी आगे निकल चुके हैं। वहीं सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव  नजर आ रही है।'

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gold Price Review sona rs 7114 and silver is cheaper by Rs 10216 from all time high know how will the move be next