DA Image
28 अक्तूबर, 2020|2:21|IST

अगली स्टोरी

Gold Price Review: इस वजह से 5148 रुपये तक सस्ता हो चुका है सोना, 10576 रुपये टूट चुकी है चांदी

                                                                       5148                                                                    10576

वैश्विक स्तर पर कीमती धातुओं पर बने दबाव का असर बीते सप्ताह घरेलू बाजार पर दिखा जहां सोना और चांदी में नरमी दर्ज की गई। सर्राफा बाजार में सोने का हाजिर भाव अपने उच्चतम स्तर से 5148 रुपये प्रति 10 ग्राम तक फिसल चुका है। सात अगस्त को सोना 56126 रुपये पर बंद हुआ था। इस दिन सुबह यह ऑलटाइम हाई रिकॉर्ड स्थापित करते हुए 56254 रुपये पर खुला था। जहां तक चांदी की बात है तो इस दौरान चांदी 10576 रुपये प्रति किलोग्राम कमजोर हुई। सात अगस्त को चांदी 75013 रुपये प्रति किलोग्राम के रेट से बंद हुई थी।

यह भी पढ़ें: मुद्रा लोन नहीं दे रहे बैंक तो इन नंबरों पर करें शिकायत

अगर केवल सितंबर के पहले हफ्ते की बात करें तो सोने का हाजिर भाव एक से 4 सितंबर के बीच 469 रुपये गिर चुका है। इस दौरान चांदी औंधेमुंह गिरी है। इन चार दिनों में चांदी 3956 रुपये प्रति किलो कमजोर हुई है। अब ऐसे में निवेशकों के मन में सवाल है कि क्या 10 ग्राम सोने का भाव 50000 के नीचे आएगा? अगर एक्सपर्ट की मानें तो 10 ग्राम सोने का भाव 50,000 रुपये के नीचे और एक किलो चांदी का भाव 60,000 रुपये के नीचे आ सकता है क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भी सोने के दाम गिर रहे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि डॉलर की साख में सुधार की वजह से सोने के रेट में इस सप्ताह काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला।

एक से चार सितंबर के बीच ऐसी रही सोने-चांदी की चाल

तारीख सोने का रेट (रुपये/10 ग्राम) चांदी का रेट (रुपये/ किलो ग्राम)
04 सितंबर 2020 51106 64437
03 सितंबर 2020 50927 64393
02 सितंबर 2020 51184 65921
01 सितंबर 2020 51575 68402

स्रोत: IBJA

अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोने-चांदी में नरमी का रहा रुख

वैश्विक स्तर पर कीमती धातुओं पर बने दबाव का असर बीते सप्ताह घरेलू बाजार पर दिखा जहां सोना और चांदी में नरमी दर्ज की गई। समीक्षाधीन अवधि में वैश्विक बाजार में दोनों प्रमुख कीमती धातुओं पर दबाव देखा गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना हाजिर 23.09 डॉलर उतरकर 1935.20 डॉलर प्रति औंस बोला गया। इस दौरान अमेरिका सोना वायदा 34.80 डॉलर गिरकर 1935.80 डॉलर प्रति औंस बोला गया। चांदी हाजिर 0.82 डॉलर उतरकर 26.78 डॉलर प्रति औंस बोली गई। घरेलू स्तर पर मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) में सोना 532 रुपये उतरकर 50857 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा। सोना मिनी 34 रुपये गिरकर 50942 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा। इस अवधि में चांदी गिरकर 67180 रुपये प्रति किलोग्राम और चांदी मिनी लुढ़ककर 67198 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गई। 

अगस्त के पहले कारोबारी सप्ताह में सोना 2302 रुपये उछला

अगस्त के पहले कारोबारी सप्ताह में सोने की चमक जहां बढ़ी तो चांदी और ज्याद मजबूत हुई। कोरोना के बढ़ते मामले और शेयर बाजारों में अनिश्चितता के बीच दोनों कीमती धातुओं ने अपनी चमक बिखेरी। 3 अगस्त को सोना 53976 रुपये प्रति 10 ग्राम पर एक नए रिकॉर्ड के साथ बंद हुआ और इस सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिवस शुक्रवार यानि सात अगस्त को सर्वोच्च शिखर पर जा पहुंचा। सोने का हाजिर भाव इस दिन 56126 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। जहां तक चांदी की बात है तो इसका हाजिर भाव इस दौरान 64770 रुपये से 75013 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गया।

फिर भी डेढ़ साल तक ऊंचे स्तर पर बना रहेगा

सोना अपने सर्वोच्च शिखर से 5148 रुपये तक हो चुका है सस्ता, 10576 रुपये टूट चुकी है चांदी

दिल्ली बुलियन एंड ज्वेलर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष विमल गोयल का मानना है कि कम एक साल तक सोना उच्चस्तर पर रही रहेगा। वह कहते हैं कि संकट के इस समय सोना निवेशकों के लिए वरदान है। गोयल मानते हैं कि दिवाली के आस-पास सोने में 10 से 15 प्रतिशत तक का उछाल आ सकता है।  मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के एसोसिएट निदेशक एवं प्रमुख (जिंस एवं मुद्रा) किशोर नार्ने कहते हैं कि सोने की कीमतों में तेजी की प्रमुख वजह कोविड-19 के चलते अर्थव्यवस्थाओं में आई सुस्ती तथा ब्याज दरों का करीब शून्य के स्तर पर होना है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में व्यापार युद्ध और वैश्विक अर्थव्यवस्था में गिरावट की आशंका के बीच सोना आकर्षक परिसपंत्ति है। उन्होंने कहा कि अगले 12 से 15 महीने में सोना अंतरराष्ट्रीय स्तर पर करीब 2,450 डॉलर प्रति औंस पर होगा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gold price has been cheaper by Rs 5148 from its peak silver has lost Rs 10576