Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़germany overtakes japan lost the title of third largest economy due to recession

मंदी की चपेट में जापान, खो दिया तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का खिताब

Germany overtakes Japan: लगातार दो तिमाहियों में जीडीपी की गिरावट ने जापान से दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का खिताब छीन लिया है। अब जर्मनी ने जापान की जगह ले ली है।

मंदी की चपेट में जापान, खो दिया तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का खिताब
Drigraj Madheshia लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीThu, 15 Feb 2024 03:22 PM
हमें फॉलो करें

जापान की अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में आ गई है। लगातार दो तिमाहियों में जीडीपी की गिरावट ने जापान से दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का खिताब छीन लिया है। अब जर्मनी दुनिया का तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। पिछली तिमाही में 3.3% की गिरावट के बाद अक्टूबर-दिसंबर की अवधि में जापान का सकल घरेलू उत्पाद (GDP) सालाना 0.4% गिर गया। 

इस वजह से छिन गया ताज: सरकारी आंकड़ों के अनुसार 2023 के लिए डॉलर के संदर्भ में जापान का नाममात्र सकल घरेलू उत्पाद 4.2 ट्रिलियन डॉलर था। इसकी तुलना में जर्मनी ने 4.5 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ विश्व स्तर पर तीसरा स्थान हासिल किया। रैंकिंग में यह बदलाव विशेष रूप से येन के मूल्य में गिरावट के कारण है, जो 2022 और 2023 में डॉलर के मुकाबले 18 प्रतिशत से अधिक गिर गया। इसमें पिछले साल सात प्रतिशत की गिरावट भी शामिल है। नकारात्मक ब्याज दरों को बनाए रखने के बैंक ऑफ जापान के फैसले ने भी मुद्रा की गिरावट में योगदान दिया।

जापान और जर्मनी की चुनौतियां: एएफपी की रिपोर्ट में कहा गया है कि जापान और जर्मनी दोनों निर्यात पर बहुत अधिक निर्भर हैं और महत्वपूर्ण चुनौतियों का सामना करते हैं। हालांकि, जापान को वर्क फोर्स की कमी का सामना करना पड़ रहा है, जो घटती जनसंख्या और कम जन्म दर के कारण और भी गंभीर हो गई है। दूसरी ओर जर्मनी भी श्रमिकों की कमी, यूरोपीय सेंट्रल बैंक की नीति में बदलाव और श्रमिकों की कमी से जूझ रहा है।

कभी दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था था जापान: घटती जनसंख्या और कम जन्म दर का सामना कर रहे जापान ने 2023 की आखिरी तिमाही में अपनी अर्थव्यवस्था में 0.1 प्रतिशत की गिरावट को देखा। 1960 के दशक के अंत में दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होने से लेकर चौथे स्थान पर खिसकने तक जापान सफर एक जटिल आर्थिक इतिहास को बता रहा है।  

जर्मनी-जापान दोनों को पछाड़ देगा भारत: बढ़ती युवा आबादी और उच्च विकास दर के साथ भारत इस दशक के अंत में संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन के बाद दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में तीसरे स्थान का दावा करते हुए, जापान और जर्मनी दोनों को पीछे छोड़ने का अनुमान है।अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का अनुमान है कि भारत की अर्थव्यवस्था 2026 में जापान और 2027 में जर्मनी से आगे निकल जाएगी। 

ब्रिटेन भी चपेटे में
2023 की दूसरी छमाही में ब्रिटेन भी मंदी की चपेट में आ गया है। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के गुरुवार के आंकड़ों के मुताबिक चौथी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद में 0.3% की गिरावट आई, जो अर्थशास्त्रियों के पूर्वानुमान से 0.1% की गिरावट से अधिक है। पिछले तीन महीनों में इसमें अपरिवर्तित 0.1% की गिरावट आई। ब्रिटेन पूर्ण मंदी के बजाय स्थिरता में है। फिर भी इससे बैंक ऑफ इंग्लैंड पर 16 साल के उच्चतम स्तर से ब्याज दरों में कटौती करने का दबाव बढ़ सकता है।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें