Saturday, January 29, 2022
हमें फॉलो करें :

गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसगैस की खपत भारत में 2030 तक तीन गुना से अधिक बढ़ जाएगी: गेल निदेशक

गैस की खपत भारत में 2030 तक तीन गुना से अधिक बढ़ जाएगी: गेल निदेशक

एजेंसी,नई दिल्लीDrigraj Madheshia
Fri, 26 Nov 2021 02:44 PM
गैस की खपत भारत में 2030 तक तीन गुना से अधिक बढ़ जाएगी: गेल निदेशक

इस खबर को सुनें

गेल (इंडिया) के विपणन निदेशक ई एस रंगनाथन ने कहा कि इस दशक के अंत तक भारत में प्राकृतिक गैस की खपत बढ़कर 55 करोड़ मानक घन मीटर प्रति दिन होने का अनुमान है। यह इस समय लगभग 17.4 करोड़ मानक घन मीटर प्रति दिन है।  उन्होंने कहा कि इसकी वजह इस्पात जैसे नए उद्योगों को शामिल करने के साथ उपयोगकर्ता आधार का विस्तार होना है। 

 रंगनाथन ने बृहस्पतिवार को ईटीएनर्जीवर्ल्ड गैस कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए कहा कि 2070 तक शुद्ध रूप से शून्य कार्बन उत्सर्जन की प्रतिबद्धता से जुड़े क्रांतिकारी कदम ने भारतीय अर्थव्यवस्था के एक स्वच्छ और कम उत्सर्जन वाली अर्थव्यवस्था की ओर बढ़ने को दृढ़ता से प्रदर्शित किया है।

  उन्होंने कहा, 'अब हमारे पास प्राथमिक ऊर्जा मिश्रण से कोयले को चरणबद्ध तरीके से कम करने को लेकर एक निश्चित नीतिगत दिशा है, जिसके लिए हमारे लक्ष्य भारत की ऊर्जा जरूरतों को ध्यान में रखते हुए बनाए गए हैं। इसे ध्यान में रखते हुए, ब्लू हाइड्रोजन और अमोनिया जैसे व्युत्पन्न उत्पादों के साथ...  शुद्ध-शून्य उत्सर्जन तक बढ़ने में एक बड़ी भूमिका होगी।'

आईईएक्स के शेयरधारकों ने बोनस निर्गम को मंजूरी दी, अधिकृत शेयर पूंजी में वृद्धि का प्रस्ताव

इंडियन एनर्जी एक्सचेंज (आईईएक्स) को बोनस शेयर जारी करने और अधिकृत शेयर पूंजी में वृद्धि के लिए शेयरधारकों की मंजूरी मिल गई है।   कंपनी ने शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि कंपनी के शेयरधारकों ने 25 नवंबर, 2021 को निर्धारित रिमोट ई-मतदान डाक मतपत्र प्रक्रिया के माध्यम से अपेक्षित बहुमत से प्रस्तावों को मंजूरी दे दी।

 21 अक्टूबर, 2021 को कंपनी के बोर्ड ने बोनस शेयरों के निर्गम को मंजूरी दी थी, जिसमें शेयरधारकों को उनके द्वारा रखे गए प्रत्येक शेयर के लिए दो बोनस शेयर मिलेंगे।    कंपनी की वर्तमान अधिकृत शेयर पूंजी 40.25 करोड़ रुपये है।   कंपनी ने बोनस शेयर जारी करने को कवर करने के लिए अपनी अधिकृत शेयर पूंजी को बढ़ाकर 100 करोड़ रुपये करने का प्रस्ताव रखा है।

epaper

संबंधित खबरें