ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessFrance Total to buy 25 percent stake in Adani New Industries Ltd check details Business News India

गौतम अडानी की बड़ी डील: अडानी की कंपनी में फ्रांसीसी एनर्जी दिग्गज करेगी 12.5 बिलियन डॉलर का निवेश

फ्रांस की प्रमुख ऊर्जा कंपनी टोटल एनर्जीज अडानी ग्रुप के ग्रीन हाइड्रोजन इंडस्ट्रीज में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करेगी। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

गौतम अडानी की बड़ी डील: अडानी की कंपनी में फ्रांसीसी एनर्जी दिग्गज करेगी 12.5 बिलियन डॉलर का निवेश
Varsha Pathakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 14 Jun 2022 01:13 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

फ्रांस की प्रमुख ऊर्जा कंपनी टोटल एनर्जीज अडानी ग्रुप के ग्रीन हाइड्रोजन इंडस्ट्रीज में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करेगी। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। अडानी ग्रुप ने एक बयान में कहा कि उसने संयुक्त रूप से दुनिया का सबसे बड़ा ग्रीन हाइड्रोजन इकोसिस्टम बनाने के लिए फ्रांसीसी फर्म के साथ नई साझेदारी की है। बयान में कहा गया, ''इस स्ट्रैटेजिक टाईअप में टोटल एनर्जीज, अडानी न्यू इंडस्ट्रीज लिमिटेड (ANIL) में अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (AEL) से 25 प्रतिशत अल्पांश हिस्सेदारी का अधिग्रहण करेगी।'' इसके लिए कंपनी कम से कम 12.5 बिलियन डॉलर का निवेश करेगी। बता दें कि इस डील की खबर आते ही अडानी एंटरप्राइजेज के शेयरों में जबरदस्त तेजी देखने को मिल रही है। कंपनी के शेयर BSE पर 5.43% की तेजी के साथ 2194.40 रुपये पर पहुंच गए।

क्या है अडानी ग्रुप का टारगेट
अडानी न्यू इंडस्ट्रीज लिमिटेड का टारगेट अगले 10 वर्षों में ग्रीन हाइड्रोजन और इससे जुड़े इकोसिस्टम में 50 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक का निवेश करना है। शुरुआती फेज में ANIL साल 2030 से पहले हर साल 1 मिलियन टन ग्रीन हाइड्रोजन प्रोडक्शन कैपासिटी को विकसित करेगा।ANIL में इस निवेश के साथ, अडानी समूह और TotalEnergies के बीच रणनीतिक गठबंधन में अब LNG टर्मिनल, गैस उपयोगिता व्यवसाय, नवीकरणीय व्यवसाय और हरित हाइड्रोजन उत्पादन शामिल है।

क्या कहा गौतम अडानी ने?
गौतम अडानी ने कहा, "अडानी-टोटल एनर्जीज संबंधों का स्ट्रैटेजिक वैल्यू, बिज़नेस और महत्वकांक्षा, दोनों स्तरों पर बहुत अधिक है। दुनिया में सबसे बड़ा ग्रीन हाइड्रोजन प्लेयर बनने के हमारे सफर में, टोटल एनर्जीज के साथ पार्टनरशिप कई आयामों को साथ जोड़ती है जिसमें आर&डी, मार्केट पहुंच और अंतिम उपभोक्ता की समझ शामिल है। यह मौलिक रूप से हमें बाजार की मांग को आकार देने की इजाजत देता है। यही कारण है कि मैं इस तरह का विशेष महत्व रखने वाले हमारे गठबंधन के निरंतर विस्तार को देखता हूं। दुनिया के सबसे कम खर्चीले इलेक्ट्रॉन के उत्पादन की हमारी क्षमता में हमारा विश्वास ही दुनिया की सबसे कम खर्चीली ग्रीन हाइड्रोजन का उत्पादन करने की हमारी क्षमता को संचालित करेगा। यह साझेदारी कई रोमांचक डाउनस्ट्रीम रास्ते खोल देगी।"

980 रुपये के पार जाएगा अडानी ग्रुप का यह शेयर, अभी दांव लगाने से बंपर मुनाफा, एक्सपर्ट ने कहा- खरीदो

कंपनी ने क्या कहा?
टोटल एनर्जीज के चेयरमैन और सीईओ पैट्रिक पॉयने ने एक बयान में कहा, "एएनआईएल में टोटल एनर्जीज का प्रवेश हमारी नवीकरणीय और निम्न कार्बन हाइड्रोजन रणनीति को लागू करने में एक प्रमुख मील का पत्थर है, जहां हम 2030 तक अपनी यूरोपीय रिफाइनरियों में उपयोग किए जाने वाले हाइड्रोजन को न केवल डीकार्बोनाइज करना चाहते हैं, बल्कि मांग को पूरा करने के लिए हरित हाइड्रोजन के बड़े पैमाने पर प्रोडक्शन को भी अग्रणी बनाना चाहते है। इससे इस दशक के अंत तक बाजार में तेजी आएगी।" 


 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें