DA Image
23 जनवरी, 2021|8:42|IST

अगली स्टोरी

फ्लिपकार्ट ने मिलाया विशाल मेगा मार्ट से हाथ दिल्ली-एनसीआर समेत 26 शहरों में करेगा अनिवार्य वस्तुओं की सप्लाई

Flipkart (Photo- Google)

वालमार्ट के स्वामित्व वाली ई-वाणिज्य कंपनी फ्लिपकार्ट ने अनिवार्य वस्तुओं की होम डिलिवरी के लिए विशाल मेगा मार्ट के साथ साझेदारी की है। इसके तहत कंपनी दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरू और कोलकाता समेत 26 शहरों में सामान की आपूर्ति करेगी। कंपनी ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि इस साझेदारी के तहत ग्राहक 365 से अधिक विशाल मेगामार्ट स्टोर पर ऑर्डर कर सकेंगे। फ्लिपकार्ट उन्हें घर पर सामान पहुंचाएगा।

फ्लिपकार्ट ने इसके लिए अपने मंच पर अलग से विशाल मेगा मार्ट एसेंशियल करके पेज बनाया है। ग्राहक विशाल के खुद के ब्रांड समेत अन्य ब्रांड के आटा, चावल, तेल, दाल इत्यादि का ऑर्डर कर सकते हैं। कंपनी की यह सेवा बेंगलुरू, हैदराबाद, कोलकाता, दिल्ली-एनसीआर, पटना, गुवाहाटी, अमृतसर, जालंधर, जयपुर और बरेली समेत 26 शहरों में उपलब्ध होगी। कंपनी अगले चार हफ्ते में इस सेवा को 240 शहरों तक बढ़ाने की योजना पर काम कर रही है।

यह भी पढ़ें: अब 4.3 करोड़ कर्मचारियों के हाथ आएगी अधिक सैलरी, ईपीएफ अंशदान में तीन महीनों के लिए कटौती लागू

बता दें अमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील जैसी ई-वाणिज्य कंपनियां सोमवार से देश के अधिकतर इलाकों में अपनी पूरी सेवाएं फिर चालू कर दी हैं।  सरकार द्वारा ई-कॉमर्स कंपनियों को कंटेनमेंट जोन्स को छोड़कर बाकी के रेड जोन इलाके में गैर-जरूरी सामानों की डिलीवरी करने की अनुमति मिल गई है। लॉकडाउन 4.0 के तहत नियमों में दी गई ढील के चलते यह मंजूरी मिली है।

यह भी पढ़ें: Gold-Silver Price Today: सोने-चांदी की कीमतों मे भारी गिरावट, इतिहास रचने के बाद धड़ाम, जानें आज का रेट

सरकार के इस कदम का अमेजन और फ्लिपकार्ट ने स्वागत किया है और कहा है कि इससे MSMEs को बूस्ट मिलेगा व आर्थिक गतिविधि को फिर से बल मिलेगा।  बता दें कि कई राज्यों जैसे दिल्ली, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, असम आदि ने अपने यहां लॉकडाउन 4.0 के दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं। अभी तक ई-कॉमर्स कंपनियों को रेड जोन्स में केवल जरूरी सामानों की बिक्री करने की अनुमति थी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Flipkart joined hands with Vishal Mega Mart to supply essential commodities in 26 cities including Delhi NCR