DA Image
6 दिसंबर, 2020|6:26|IST

अगली स्टोरी

फिच : 2019-20 वित्त वर्ष में 3.6 प्रतिशत रहेगा राजकोषीय घाटा

Fitch rating

फिच समूह की शोध इकाई फिच सॉल्यूशंस का अनुमान है कि अगले वित्त वर्ष 2019-20 में राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद का 3.6 प्रतिशत रहेगा। यह तय बजट लक्ष्य 3.4 प्रतिशत से 0.2 प्रतिशत अधिक है।

फिच साल्यूशंस ने कहा कि आम चुनाव की वजह से 2019-20 के बजट को लोकलुभावन बनाया गया है। फिच के मुताबिक बजट उम्मीद के अनुकूल है। यह पहले से माना जा रहा था कि सत्ताधारी भाजपा तीन हिंदी राज्यों में अपनी हार के बाद अपनी लोकप्रियता को कायम रखने के लिए लोकलुभावन घोषणाएं कर सकती है।

फिच सॉल्यूशंस के मुताबिक उनका अनुमान है कि व्यय वृद्धि सरकार के अनुमान से अधिक रहेगी। यह अनुमान चुनाव में होने वाले भारी भरकम खर्च तथा बजट भाषण में इस बात पर जोर के मद्देनजर दिया है कि जरूरत होने पर अतिरिक्त कोष उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा सरकार के राजस्व वृद्धि के अनुमान भी खासकर मध्यम वर्ग और छोटे कारोबारों को दी गई कर छूट के मद्देनजर बहुत अधिक आशावादी नजर आता है।

इसी के अनुरूप फिच सॉल्यूशंस ने 2019-20 के राजकोषीय घाटे के अपने अनुमान को बढ़ाकर 3.6 प्रतिशत कर दिया है। पहले उसने इसके तीन प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था।

करा रहे हैं FD तो जानें कौनसे बैंक दे रहे हैं ज्यादा इंटरेस्ट..

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Fitch report on fiscal deficit of financial year 2019-20