Monday, January 24, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसDAP की किल्लत से किसान परेशान, गेहूं की बुआई होगी प्रभावित 

DAP की किल्लत से किसान परेशान, गेहूं की बुआई होगी प्रभावित 

न्यू़ज एजेंसी,नई दिल्ली Tarun Singh
Fri, 12 Nov 2021 01:07 PM
DAP की किल्लत से किसान परेशान, गेहूं की बुआई होगी प्रभावित 

इस खबर को सुनें

उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा में गेहूं की बुआई शुरू हो गई है। लेकिन तमाम सरकारी दावों के विपरित डीएपी की किल्लत से किसानों को काफी परेशान होना पड़ रहा है। जिसकी वजह गेहूं की बुआई पर बुरा असर पड़ रहा है। पहले से ही बेमौसमी बारिश से परेशान किसानों के लिए डीएपी खरीदना नई मुसीबत बन गई है। इससे कहीं ना कहीं किसानों की बुआई भी प्रभावित होगी। किसानों को अधिक समस्या का सामना ना करना पड़े इसलिए सरकार की तरफ रैक में इजाफा किया गया है। साथ ही खाद्य की कालाबाजारी करने वालों पर भी प्रशासन की सख्त नजर है। 

डीएपी की उपलब्धता पर क्या बोले यूपी के कृषि मंत्री 

उत्तर प्रदेश में उर्वरक की कोई कमी नहीं है और जमाखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई से पोषक तत्वों की उपलब्धता बढ़ गई है। उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि महीने के अंत तक राज्य में छह लाख टन फास्फेटिक उर्वरक उपलब्ध हो जाएगा।  मंत्री ने कहा कि दो लाख टन फास्फेटिक उर्वरक प्राप्त हो गया है, 1.5 लाख टन पारगमन के के रास्ते में है जो शीघ्र ही पहुंच जाएगा और बाकी उर्वरकों की समय पर उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।  मंत्री ने कहा कि राज्य में 4.48 लाख टन फास्फेटिक उर्वरक, 2.86 लाख टन डीएपी, 1.62 लाख टन एनपीके का बफर स्टॉक पहले से ही उपलब्ध है।

यह भी पढ़ेंः पेट्रोल सस्ता करने में भारत आगे, कहीं 2 से 40 पैसे ही कम हुए दाम तो पाकिस्तान-नेपाल में 3 रुपये तक हुआ महंगा

उन्होंने किसानों को अफवाहों से गुमराह न होने की सलाह दी है। मंत्री ने कहा कि जमाखोरी में लगे 79 दुकानदारों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए हैं, जबकि 175 दुकानदारों के लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं, उन्होंने कहा कि 198 दुकानदारों को चेतावनी दी गई है और 47 दुकानदारों पर बिक्री पर प्रतिबंध भी जारी किया गया है। 

केन्द्र सरकार ने फर्टिलाइजर कंपनियों से दाम ना बढ़ाने के दिए थे निर्देश 

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार केन्द्रीय उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया ने सभी फर्टिलाइजर कंपनियों को DAP और दूसरे फॉस्फेटिक उर्वरकों के रिटेल की कीमतों में इजाफा ना करने को कहा था। सरकार से जुड़े सूत्रों के अनुसार मंत्री ने सभी कंपनियों को स्पष्ट कर दिया है सरकार कीमतों में बढ़ोतरी की अनुमति नहीं देगी। बता दें, इस साल जून में सरकार ने डीएपी और नॉन यूरिया फर्टिलाइजर के लिए 14,775 करोड़ रुपये की सब्सिडी की मंजूरी दी थी। यूरिया के बाद DAP फर्टिलाइजर की मांग सबसे अधिक होती है।

epaper

संबंधित खबरें