DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिजनेस  ›  15 साल के बाद PPF खाते को पांच साल बढ़ाने की सुविधा, जानें कब और कैसे उठा सकते हैं लाभ 
बिजनेस

15 साल के बाद PPF खाते को पांच साल बढ़ाने की सुविधा, जानें कब और कैसे उठा सकते हैं लाभ 

हिन्दुस्तान ब्यूरो, नई दिल्लीPublished By: Tarun Singh
Sat, 19 Jun 2021 10:49 AM
15 साल के बाद PPF खाते को पांच साल बढ़ाने की सुविधा, जानें कब और कैसे उठा सकते हैं लाभ 

निवेशकों के लिए पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) में निवेश एक बेहतर और सुरक्षित विकल्प है। इसमें निवेश पर न सिर्फ कर छूट का लाभ मिलता है बल्कि निवेश पर मिलने वाले ब्याज की रकम व 15 साल बाद मेच्योरिटी अमाउंट पर भी कोई कर नहीं चुकाना होता है। ऐसे में क्या आपको पता है कि आप अपने पीपीएफ खाते में 15 साल के बाद भी निवेश जारी रख सकते हैं। आप अपने पीपीएफ खाते को पांच साल के गुणक में आगे बढ़ा सकते हैं। यानी, 15 साल पूरे होने के बाद आप उसे पांच साल की अवधि के लिए बढ़ा कर निवेश जारी रख सकते हैं।

Petrol Price Today: राहत भरा शनिवार, पेट्रोल और डीजल की कीमतों आज नहीं हुआ कोई इजाफा, चेक करें अपने शहर का रेट 

बैंक या पोस्ट ऑफिस को जानकारी देना जरूरी

वित्तीय विशेषज्ञों का कहना है कि अगर आप अपने पीपीएफ खाते में 15 साल की परिपक्वता अवधि पूरी होने के बाद निवेश जारी रखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको बैंक या पोस्ट ऑफिस को सूचना देनी होगी। आपका पीपीएफ खाता जहां भी होगा उसमें एक फॉर्म एच भरकर जमा करनी होगी। इसके बाद ही आपके किए हुए निवेश पर ब्याज मिलेगा अन्यथा नहीं। अगर कोई पीपीएफ खाताधारक नए योगदान के साथ अपने पीपीएफ खाते को पांच साल की अवधि के लिए जारी रखने का निर्णय लेता है, तो वह प्रत्येक विस्तारित अवधि की शुरुआत में खाते की शेष राशि का 60% तक निकाल सकता है।

रिटायरमेंट फंड जमा करने का बेहतर माध्यम

वित्तीय विशेषज्ञों का कहना है कि पीपीएफ एक लंबी अवधि का बेहतर निवेश माध्यम है। इसके जरिए रिटायरमेंट फंड का प्रबंधन आसानी से किया जा सकता है। अगर कोई व्यक्ति सालाना एक लाख रुपये जमा करता है और उसे 7.5 फीसदी की दर से औसत ब्याज मिलता है तो 15 साल के बाद वह आसानी से 31 लाख रुपये जमा कर लेगा। इसी ब्याज दर से वह 10 साल से कम समय में उस रकम को दोगुना कर लेगा।

महामारी के दौर में कैसे मजबूत की तरफ बढ़े भारतीय अर्थव्यवस्था, RBI गवर्नर ने बताए उपाय 

संबंधित खबरें