DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिजनेस › Amazon पर यूरोपीय यूनियन ने लगाया 888 मिलियन डाॅलर का जुर्माना, जानें क्या है वजह 
बिजनेस

Amazon पर यूरोपीय यूनियन ने लगाया 888 मिलियन डाॅलर का जुर्माना, जानें क्या है वजह 

ब्लूमबर्ग,नई दिल्ली Published By: Tarun Singh
Sat, 31 Jul 2021 12:41 PM
Amazon पर यूरोपीय यूनियन ने लगाया 888 मिलियन डाॅलर का जुर्माना, जानें क्या है वजह 

अमेजन पर यूरोपीय यूनियन ने अबतक का सबसे बड़ा जुर्माना लगाया है। यह जुर्माना डाटा प्राइवेसी नियमों के उल्लंघन के आरोप में लगाया है। हालांकि अमेजन ने नियमों के उल्लंघन से किया है। आइए समझते हैं कि क्या है पूरा मामला और अमेजन की अब क्या योजना है। 

लक्सम्बर्ग डाटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी की तरफ से अमेजन पर 746 मिलियन यानी 888 मिलियन डाॅलर का जुर्माना लगाया है। यह जुर्माना यूरोपीय जनरल डाटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन के उल्लंघन पर लगाया गया है। यह जांच 2018 में एक फ्रांसिसी राइट ग्रुप की शिकायत के बाद शुरू किया गया था। उन्होंने अमजेन पर लगाए जुर्माने वाले फैसले का स्वागत किया है।

डबल IPO के साथ अगस्त की शुरुआत, निवेशकों को मिलेगा कमाई का मौका

अमेजन ने अपनी सफाई में क्या कहा 

अमेजन ने अपनी सफाई में कहा, 'किसी भी तरह के नियमों का उल्लंघन नहीं किया गया है। ना हीं किसी भी प्रकार का कस्टमर डेटा किसी थर्ड पार्टी को दिया गया है।' उन्होंने कहा,'ताजा फैसले का कोई आधार नहीं है। हम CNDP की रुलिंग से सहमत नहीं हैं।' 

अमेजन पर लगाया गया यह फैसला 16 जुलाई को आया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आने वाले समय में अमेजन इस फैसले की चुनौती देगा। आपको बता दें यूरोपीय यूनियन जनरल डेटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन के अनुसार कोई भी कंपनी लोगों के व्यक्तिगत डेटा का उपयोग बिना अनुमति के नहीं कर सकती है। अगर वह बिना अनुमति के डेटा का उपयोग कंपनियां करती हैं तो उनपर भारी जुर्माना लगाया जाएगा। 

ग्रामीणों में भी ब्रांडेड सामनों का क्रेज, शहर से ज्यादा हो रही है गांवों में इन उत्पादों की बिक्री

संबंधित खबरें