DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसEPFO Alert: आज ही अपने PF खाते से नॉमिनी का नाम जोड़ लें वरना 7 लाख रुपये का होगा नुकसान

EPFO Alert: आज ही अपने PF खाते से नॉमिनी का नाम जोड़ लें वरना 7 लाख रुपये का होगा नुकसान

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीDrigraj Madheshia
Tue, 26 Oct 2021 11:36 AM
EPFO Alert: आज ही अपने PF खाते से नॉमिनी का नाम जोड़ लें वरना 7 लाख रुपये का होगा नुकसान

EPFO News Alert:  अगर आप ईपीएफ के सदस्य हैं और आपका पीएफ कटता है तो अपने खाते में नॉमिनी का नाम आज ही जोड़ लेना चाहिए। EPFO ने अपने 6 करोड़ से अधिक सदस्यों को यह जानकारी देते हुए ट्वीट किया है, "सदस्यों को अपने परिवारों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए आज ही ई-नामांकन फ़ाइल करें। सदस्यों को वहां परिवार के सदस्यों/नामिति को नामित करने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।

यह भी पढ़ें: नॉमिनी और उत्तराधिकारी में क्या है अंतर? खातेदार की मृत्यु के बाद जानें बैंक खाते के पैसे या बीमा रकम का मालिक कौन

बता दें आप घर बैठे ही ई-नाॅमिनेशन फाइल कर सकते हैं। इससे जहां निवेशक को ऑफिस के चक्कर लगाने से छुटकारा मिलेगी। वहीं, निवेशक की मृत्यु पर नाॅमिनी को पेंशन, फंड और इंश्योरेंस का लाभ आसानी से मिल जाएगा।

 

ईपीएफओ ने अपने ट्वीटर हैंडल से इसकी जानकारी साझा की है। इससे पहले एक और ट्वीट के जरिए ई-नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया के बारे में बताया गया है। " EPF/EPS नामांकन डिजिटल रूप से दाखिल करने के लिए इन आसान चरणों का पालन करें।" आइए जानते हैं कि कैसे आप अपना नाॅमिनी ऑनलाइन जोड़ सकते हैं। 

अगर नहीं किया काम तो 7 लाख का होगा नुकसान

अगर आपने नॉमिनी का नाम ऐड नहीं किया तो आपके परिवार को 7 लाख रुपये तक का नुकसान हो सकता है। बता दें ईपीएफओ के सदस्य की मौत के बाद बीमा की रकम का भुगतान होता है। अगर सेवा के दौरान ईपीएफ कर्मचारी की मृत्यु होने पर नॉमिनी या कानूनी उत्तराधिकारी बीमा के लिए क्लेम कर सकता है। स्कीम के तहत न्यूनमत बीमा लाभ राशि ढाई लाख रुपये है। वहीं, बीमा की अधिकतम रकम 7 लाख रुपये है। मतलब ये कि नॉमिनी 7 लाख रुपए तक की बीमा रकम ले सकता है। बीमा की रकम सीधे नॉमिनी के बैंक खाते में जमा किया जाता है। 

यहां समझें पूरा प्रोसेस

  • EPFO वेबसाइट पर लाॅगइन करें। उसके बाद सर्विस पर क्लिक करें, फिर Employees ऑप्शन पर जाएं। इसके बाद Member UAN/Online Service पर क्लिक करें। 
  • UAN और पासवर्ड के साथ लाॅगइन करें। 
  • मैनेज टैब पर क्लिक करने के बाद E- Nomination सलेक्ट करें। 
  • Provide Details टैब पर जाएं और पूरी जानकारी दें और Save कर दें। 
  • फैमली से जुड़ी डीटेल्स के लिए Yes पर क्लिक करें। 
  • अपना फैमिली डीटेल्स लिखें। (एक से ज्यादा नाॅमिनी भी जोड़ा जा सकता है।) 
  • Nomination Details पर क्लिक करके लिखें कितने प्रतिशत शेयर का हकदार होंगे। 
  • इसके बाद E-Sign पर क्लिक करें। आधार रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP जाएगा। प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपका नाॅमिनी खाते से EPF/EPS जुड़ जाएगा। 

 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें