ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेस9 रुपये से 3500 के पार पहुंचा यह शेयर, 1 लाख रुपये के बने 4 करोड़ रुपये

9 रुपये से 3500 के पार पहुंचा यह शेयर, 1 लाख रुपये के बने 4 करोड़ रुपये

डिविस लैबोरेट्रीज के शेयर पिछले कुछ साल में 9 रुपये से बढ़कर 3500 रुपये के पार पहुंच गए हैं। फार्मा कंपनी के शेयरों ने इस पीरियड में निवेशकों को 40000 फीसदी के करीब रिटर्न दिया है।

9 रुपये से 3500 के पार पहुंचा यह शेयर, 1 लाख रुपये के बने 4 करोड़ रुपये
Vishnuलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीWed, 25 May 2022 03:31 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

एक फार्मा कंपनी के शेयरों ने जबरदस्त रिटर्न दिया है। कंपनी के शेयरों ने 40,000 पर्सेंट के करीब रिटर्न निवेशकों को दिया है। यह कंपनी डिविस लैबोरेट्रीज (Divi's Laboratories) है। डिविस लैब्स एक्टिव फार्मास्युटिकल्स इंग्रेडिएंट्स बनाती है। कंपनी के शेयर पिछले कुछ साल में 9 रुपये से बढ़कर 3500 रुपये के पार पहुंच गए हैं। डिविस लैब्स के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई-लेवल 5,425.10 रुपये है। 

1 लाख रुपये के बन गए करीब 4 करोड़ रुपये  
डिविस लैबोरेट्रीज (Divi's Laboratories) के शेयर 13 मार्च 2003 को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में 9.04 रुपये के स्तर पर थे। कंपनी के शेयर 25 मई 2022 को बीएसई में 3,590.05 रुपये के स्तर पर ट्रेड कर रहे हैं। इस पीरियड में कंपनी के शेयरों ने निवेशकों को 39,200 पर्सेंट के करीब रिटर्न दिया है। अगर किसी व्यक्ति ने 13 मार्च 2003 को कंपनी के शेयरों में 1 लाख रुपये लगाए होते और अपने निवेश को बनाए रखा होता तो मौजूदा समय में यह पैसा 3.97 करोड़ रुपये होता। 

यह भी पढ़ें- मोदी सरकार के इस फैसले के बाद अडानी विल्मर और रुचि सोया के शेयरों में लग गया लोअर सर्किट

10 साल में 1 लाख के बन गए 7 लाख रुपये से ज्यादा 
डिविस लैबोरेट्रीज के शेयर 25 मई 2012 को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) में 474.48 रुपये के स्तर पर थे। कंपनी के शेयर 25 मई 2022 को बीएसई में 3,590.05 रुपये के स्तर पर ट्रेड कर रहे हैं। अगर किसी निवेशक ने 10 साल पहले कंपनी के शेयरों में 1 लाख रुपये लगाए होते और अपने निवेश को बनाए रखा होता तो मौजूदा समय में यह पैसा 7.56 लाख रुपये होता। कंपनी के शेयरों ने पिछले 5 साल में निवेशकों को 550 फीसदी के करीब रिटर्न दिया है। कंपनी के शेयरों का 52 हफ्ते का लो-लेवल 3,540.35 रुपये है। बीएसई में कंपनी का मार्केट कैप करीब 93,186 करोड़ रुपये है। 

यह भी पढ़ें- मोदी सरकार ने चीनी के निर्यात पर 1 जून से लगाई पाबंदी, शुगर स्टॉक्स में बड़ी गिरावट

epaper