DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिजनेस  ›  पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में अबतक नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन हुआ दोगुना
बिजनेस

पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में अबतक नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन हुआ दोगुना

न्यू़ज एजेंसी,नई दिल्ली Published By: Tarun Singh
Wed, 16 Jun 2021 06:15 PM
पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में अबतक नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन हुआ दोगुना

आयकर विभाग ने बुधवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष में अबतक शुद्ध प्रत्यक्ष कर संग्रह दोगुना से अधिक होकर 1.85 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया। इसका मुख्य कारण व्यक्तिगत आयकर और अग्रिम कर भुगतान में वृद्धि है। शुद्ध प्रत्यक्ष कर संग्रह में शामिल कंपनी आयकर (सीआईटी) संग्रह 74,356 करोड़ रुपये जबकि प्रतिभूति सौदा कर (एसटीटी) समेत व्यक्तिगत आयकर संग्रह 1.11 लाख करोड़ रुपये रहा।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने एक बयान में कहा कि वापस की गयी कर राशि को हटाकर शुद्ध प्रत्यक्ष कर संग्रह एक अप्रैल से 15 जून के बीच 1,85,871 करोड़ रुपये रहा जबकि पिछले साल इसी अवधि में यह 92,762 करोड़ रुपये था। यानी पिछले साल के मुकाबले इसमें 100.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। चालू वित्त वर्ष में अबतक 30,731 करोड़ रुपये कर वापस किये गये हैं। मौजूदा वित्त वर्ष में अबतक सकल प्रत्यक्ष कर संग्रह 2.16 लाख करोड़ रुपये रहा जो पिछले साल इसी अवधि में 1.37 लाख करोड़ रुपये था।
    

बयान के अनुसार सकल कंपनी आयकर संग्रह 96,923 करोड़ रुपये जबकि व्यक्तिगत आयकर 1.19 लाख करोड़ रुपये रहा। अग्रिम कर संग्रह 28,780 करोड़ रुपये जबकि स्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) 1,56,824 करोड़ रुपये रही। खुद से आकलन किया गया कर 15,343 करोड़ रुपये और नियमित आकलन कर 14,079 करोड़ रुपये रहा। सीबीडीटी ने कहा, ''नये वित्त वर्ष के शुरूआती महीनों के बेहद चुनौतीपूर्ण होने के बावजूद, वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के लिए अग्रिम कर संग्रह करीब 146 प्रतिशत बढ़कर 28,780 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 11,714 करोड़ रुपये था।

संबंधित खबरें