ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessDhanlaxmi Bank share huge gain After a news investors ran for buy the price is so low that you too will not be left without buying

एक खबर के बाद इस बैंक के शेयर पर टूट पड़े निवेशक, भाव इतना कम कि आप भी खरीदे बिना नहीं रहेंगे

Stocks of the day: महज छह महीने में ही धनलक्ष्मी बैंक के शेयर अपने निवेशकों के धन को दोगुना से अधिक कर दिया। यह स्टॉक एक मल्टीबैगर भी रहा है, जिसने पिछले एक वर्ष में लगभग 170 फीसद रिटर्न दिया है।

एक खबर के बाद इस बैंक के शेयर पर टूट पड़े निवेशक, भाव इतना कम कि आप भी खरीदे बिना नहीं रहेंगे
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 03 Oct 2023 02:07 PM
ऐप पर पढ़ें

Stock to Buy: धनलक्ष्मी बैंक की कुल जमा 8.2 फीसद बढ़कर 13,789 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 12,748 करोड़ रुपये थी। आधार वित्त वर्ष की इसी तिमाही में सकल अग्रिम भी 13.2 फीसद बढ़कर 10,312 करोड़ रुपये हो गया, जो 9,109 रुपये था। इसका असर इस बैंक के शेयरों पर दिखा और यह 12 फीसद तक उछल गए। मंगलवार दोपहर दो बजे के करीब धनलक्ष्मी बैंक के शेयर 12.18 फीसद ऊपर 32.70 रुपये पर ट्रेड कर रहे थे। 

इस अपडेट से सितंबर तिमाही में अच्छी कमाई की उम्मीद जगी, जिसने निवेशकों को धनलक्ष्मी बैंक के शेयरों को खरीदने के लिए प्रेरित किया। स्टॉक की कीमत में बढ़ोतरी के साथ-साथ मजबूत वॉल्यूम भी था, क्योंकि दोपहर तक एक करोड़ शेयर बदल चुके थे, जो 22 लाख शेयरों के एक सप्ताह के दैनिक कारोबार के औसत से काफी अधिक था। 

दुनिया की बेस्ट व्हिस्की बनाने वाली कंपनी के शेयरों पर चढ़ा निवेशकों का नशा, 20 पर्सेंट का लगा अपर सर्किट

यह स्टॉक एक मल्टीबैगर भी रहा है, जिसने पिछले एक वर्ष में लगभग 170 फीसद रिटर्न दिया है, क्योंकि यह पीएसयू बैंक क्षेत्र में देखी गई तेजी की लहर पर सवार था। पिछले एक महीने में इस बैंकिंग स्टॉक ने 32 फीसद से अधिक का रिटर्न दिया है। महज छह महीने में ही धनलक्ष्मी बैंक के शेयर अपने निवेशकों के धन को दोगुना से अधिक कर दिया। इस दौरान इसने 116 फीसद से अधिक का रिटर्न दिया।

बता दें यह बैंक सितंबर में एक विवाद में फंस गया था, जब स्वतंत्र निदेशक श्रीधर कल्याणसुंदरम ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने अन्य मुद्दों के अलावा बैंक के संचालन के अनैतिक आचरण और बोर्ड के सदस्यों के बीच आंतरिक गुटबाजी के बारे में चिंताओं का हवाला दिया। कल्याणसुंदरम ने यह भी बताया कि बैंक के बोर्ड को गुमनाम और हस्ताक्षरित दोनों तरह की कई शिकायतें मिली थीं।

(डिस्‍क्‍लेमर: विशेषज्ञों द्वारा दी गई सिफारिशें, सुझाव, विचार और राय उनके अपने हैं, लाइव हिन्दुस्तान के नहीं। यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें