DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक ऑफ बड़ौदा में हुआ विजया बैंक-देना बैंक का विलय, बना देश का तीसरा बड़ा सरकारी बैंक

बैंक ऑफ बड़ौदा सोमवार को देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक बन गया है। इसमें देना बैंक और विजया बैंक का विलय होने के बाद ऐसा हुआ है। इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में उसके सहयोगी बैंक और भारतीय महिला बैंक का विलय कर दिया गया था।

विलय के बाद अब देशभर में बैंक ऑफ बड़ौदा की 9,500 शाखाएं, 13,400 एटीएम और 85,000 से अधिक कर्मचारी होंगे। बैंक अब 12 करोड़ से अधिक ग्राहकों को अपनी सेवाएं देगा।

विलय के बाद एकीकृत बैंक ने 15 लाख करोड़ रुपये की बैलेंस शीट के साथ काम करना शुरू किया है। बैंक के पास करीब 8.75 लाख करोड़ रुपये का जमा है। जबकि उसने 6.25 लाख करोड़ रुपये का ऋण वितरण किया हुआ है।

विलय की योजना के मुताबिक बैंक ऑफ बड़ौदा ने विजया और देना बैंक के शेयरधारकों को नये बैंक में शेयर आवंटन का काम पूरा कर लिया है। विजया बैंक को अपने हर 1,000 शेयर के बदले बैंक ऑफ बड़ौदा के 402 शेयर और देना बैंक को 110 शेयर मिले हैं।

शेयर बाजार को दी जानकारी के अनुसार बैंक ऑफ बड़ौदा ने सोमवार को इन शेयरों का आवंटन कर दिया। अब बैंक के पास गुजरात में 22 प्रतिशत, महाराष्ट्र, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में आठ से दस प्रतिशत की बाजार हिस्सेदारी होगी।

विजया बैंक और देना बैंक का 1 अप्रैल से बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय, बनेगा देश का तीसरा बड़ा बैंक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dena bank and Vijya bank merged with Bank of Baroda