Dena bank and Vijya bank and BoB customer will get new information regarding atm - इन तीन बैंकों के कस्टमर्स को करने होंगे ये काम, जल्द मिलेगी नई सूचना DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इन तीन बैंकों के कस्टमर्स को करने होंगे ये काम, जल्द मिलेगी नई सूचना

बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) में विजया बैंक (Vijya Bank) और देना बैंक (Dena Bank) का विलय हो चुका है। बैंक ऑफ बड़ौदा देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक बन गया है। अब देना बैंक और विजया बैंक की ब्रांच बैंक ऑफ बड़ौदा की ब्रांच कहलाई जाएगी। ऐसे में जिन भी खाताधारकों का देना बैंक और विजया बैंक में अकाउंट होगा उनको आने वाले महीनों में कुछ काम करने पड़ सकते हैं। आइए जानते हैं क्या करने होंगे काम..
ग्राहकों पर क्या पड़ेगा असर? 
देश के तीन प्रमुख सरकारी बैंकों के विलय से खाताधारकों के अकाउंट पर कोई असर नहीं होगा लेकिन अकाउंट होल्डर्स के लिए थोड़ा काम जरूर बढ़ने वाला है। विजया बैंक और देना बैंक के खाताधारकों के पासबुक, चेकबुक और एटीएम कार्ड को लेकर बड़े बदलाव हो सकते हैं। 

पासबुक, चेकबुक और ATM कार्ड में होगा बदलाव
बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय के बाद देना बैंक और विजया बैंक के खाताधारकों को नए चेकबुक, पासबुक, एटीएम कार्ड बनवाने पड़ सकते हैं। बैंक जो भी फैसले लेगा उसके बारे में ग्राहकों को पहले सूचित किया जाएगा। इसके लिए बैंक कस्टमर्स को समय देगा, ताकि कस्टमर्स को नई पासबुक या चेकबुक मिल सके। 

बदल सकते हैं आईएफएससी कोड (IFSC Code)
देना बैंक और विजया बैंक की सभी ब्रांच के आईएफएससी कोड भविष्य में बदल सकते हैं। इसके बारे में बैंक जल्द घोषणा कर सकता है। हालांकि बैंक ऑफ बड़ौदा ने कहा है कि वह कोई भी बैंक ब्रांच बंद नहीं करेगा लेकिन आस-पास की ब्रांच को भविष्य में आपस में जोड़ा या एक किया जा सकता है। अगर बैंक ऐसा करता है तो इस बारे में ग्राहकों को पहले से जानकारी देगा। 

बैंक ऑफ बड़ौदा में हुआ विजया बैंक-देना बैंक का विलय, बना देश का तीसरा बड़ा सरकारी बैंक

बैंक लॉकर हो सकते हैं शिफ्ट
अगर बैंक ऑफ बड़ौदा, देना बैंक या विजया बैंक की एक ही जगह की आसपास की ब्रांच को आपस में जोड़ता है या एक करता है तो लॉकर भी नई ब्रांच में शिफ्ट हो सकते हैं। इसके बारे में बैंक ग्राहकों को पहले से सूचित करेगा।

नहीं लगेगा चार्ज
देना बैंक या विजया बैंक से बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ बड़ौदा से देना बैंक या विजया बैंक, देना बैंक और विजया बैंक में एनईएफटी (NEFT) या आरटीजीएस (RTGS) के जरिए पैसा ट्रांसफर करने पर चार्ज नहीं लगेगा। अगर बैंक गलती से चार्ज काट भी लेता है तो वह उसे वापिस कर देगा।

एटीएम से पैसा निकालने पर नहीं लगेगा चार्ज 
देना बैंक या विजया बैंक या बैंक ऑफ बड़ौदा से पैसा निकालने पर कोई भी एटीएम ट्रांजेक्शन चार्ज नहीं लगेगा।

1 अप्रैल के बाद से मिलेगा नया डेबिट कार्ड

1 अप्रैल के बाद से देना बैंक या विजया बैंक में डेबिट कार्ड के लिए आवेदन करने पर बैंक ऑफ बड़ौदा का डेबिट कार्ड कस्टमर को जारी होगा। 

मिलेगी बेहतर ऑनलाइन बैंकिंग सर्विस
ऐसी उम्मीद की जा रही है कि तीनों बैंकों के विलय होने से कस्टमर्स को पहले से बेहतर फोन बैंकिंग, इंटरनेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग की सुविधा मिल पाएगी। बैंक ब्रांच और एटीएम के बड़े नेटवर्क का फायदा कस्टमर्स को मिलेगा।

सरकार ने इसलिए उठाया ये कदम
बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक के विलय के बाद देश भर में बैंक ऑफ बड़ौदा की 9,500 शाखाएं, 13,400 एटीएम और 85,000 से अधिक कर्मचारी होंगे। बैंक अब 12 करोड़ से अधिक ग्राहकों को अपनी सेवाएं देगा। मोदी सरकार ने बैंकों के बढ़ते एनपीए को ध्यान में रखते हुए साल 2016 में सरकारी बैंकों के एकीकरण का ऐलान किया था। इसके तहत सरकार की योजना बैंकों की संख्या घटाकर बड़े बैंक बनाना है। 

(ये सभी जानकारी बैंक ऑफ बड़ौदा की वेबसाइट से ली गई है।)
महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितने बढ़े दाम 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dena bank and Vijya bank and BoB customer will get new information regarding atm