ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News BusinessCyber security and customer protection are necessary for the speed of digital payments

डिजिटल पेमेंट की तेजी के लिए साइबर सुरक्षा, कस्टमर प्रोटेक्शन जरूरी

Cash Vs Digital Payment: भारत के लोगों में अपने पास रखने के लिए नकदी की अहमियत बने रहने के बावजूद नकद लेनदेन में गिरावट आ रही है और भुगतान के डिजिटल तरीकों का उपयोग तेजी से हो रहा है।

डिजिटल पेमेंट की तेजी के लिए साइबर सुरक्षा, कस्टमर प्रोटेक्शन जरूरी
Drigraj Madheshiaएजेंसी,मुंबईTue, 28 Nov 2023 09:40 PM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने मंगलवार को कहा कि कोविड महामारी के कारण डिजिटल पेमेंट को मिली रफ्तार को कायम रखने के लिए साइबर सुरक्षा, ग्राहक संरक्षण और किफायती लागत पर ध्यान देना जरूरी है। रिजर्व बैंक ने 'भारत में नकद बनाम डिजिटल पेमेंट लेनदेन' पर जारी एक अध्ययन पत्र में कहा कि अपने पास रखने के लिए नकदी की अहमियत बने रहने के बावजूद नकद लेनदेन में गिरावट आ रही है और पेमेंट के डिजिटल तरीकों का उपयोग तेजी से हो रहा है। वैश्विक रुझानों के अनुरूप भारत में भी कोविड महामारी के कारण मुद्रा की मांग अस्थायी रूप से बढ़ी थी। इसके पीछे मुख्य वजह एहतियाती तौर पर कुछ नकदी अपने पास रखने की जरूरत थी।

इस अध्ययन पत्र के मुताबिक, महामारी के समय डिजिटल पेमेंट को मिली रफ्तार को बनाए रखने के लिए पेमेंट के किफायती तरीकों और मांग (उपभोक्ता) एवं आपूर्ति पक्ष (व्यापारियों और मध्यस्थों) से प्रासंगिक स्वीकृति का बुनियादी ढांचा तय करने वाले प्रयासों की जरूरत है।  इसके अलावा स्मार्टफोन और इंटरनेट तक सबकी पहुंच को सुनिश्चित करना भी जरूरी है।

यह भी पढ़ेंRBI की रिपोर्ट: ठगों के निशाने पर रहा डिजिटल पेमेंट, बैंकिंग क्षेत्र में धोखाधड़ी के मामले बढ़े, राशि आधी हुई

आरबीआई के आर्थिक और नीति अनुसंधान विभाग (डीईपीआर) से जुड़े साक्षी अवस्थी, रेखा मिश्रा और शरत ढल ने यह अध्ययन पत्र तैयार किया है। इसमें कहा गया है कि वित्तीय समावेश और वित्तीय साक्षरता को बढ़ावा देने के साथ ही साइबर सुरक्षा एवं ग्राहक संरक्षण पर भी ध्यान देना होगा।

डिजिटल पेमेंट को लेकर रुझान बढ़ा पर नकदी की अहमियत बनी हुई है

इसके मुताबिक, डिजिटल पेमेंट को लेकर रुझान बढ़ने के बावजूद नकदी में लेनदेन और बचत करने के लिए लोगों की मजबूत प्रवृत्ति के कारण नकदी की अहमियत बनी हुई है। इसके अलावा नकदी सभी तरह के पेमेंटों के लिए वास्तविक आधार के रूप में कार्य करती है। इसमें कहा गया है, "डिजिटलीकरण की सफलता सिर्फ नकदी की जगह लेने से अधिक है, इसका आर्थिक वृद्धि, वित्तीय बाजारों के विकास, परिवारों की वित्तीय सेहत और प्रभावी प्रशासन पर व्यापक प्रभाव पड़ता है।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें