DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीपीएसई ईटीएफ की पेशकश को दोगुना सब्सक्रिप्शन, अब तक 25000 करोड़ रुपए की बोली

Sensex

केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रमों (सीपीएसई) के ईटीएफ के छठी किस्त को दोगुना अभिदान मिला है। संस्थागत और खुदरा निवेशकों से कुल मिलाकर अब तक 25,000 करोड़ रुपये की बोलियां प्राप्त हुई हैं। सरकार की सीपीएसई के एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) की अनुवर्ती कोष पेशकश (एफएफओ) के जरिए 10 हजार करोड़ रुपये जुटाने की योजना है।

इस पेशकश को बृहस्पतिवार को संस्थागत निवेशकों के लिए खोली गई थी और 19,000 करोड़ रुपये की बोली मिली थी। शुक्रवार को खुदरा निवेशकों ने 5,000 करोड़ रुपये से अधिक की बोली लगाई है। इस तरह कुल बोली का मूल्य करीब 25,000 करोड़ रुपये है। यह आंकड़ा ऊपर जा सकता है। सीपीएसई एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) के तहत 11 केंद्रीय लोक उपक्रमों के शेयरों पर नजर रखी जाती है।

ये सीपीएसई ओएनजीसी, एनटीपीसी, कोल इंडिया, आईओसी, ग्रामीण विद्युतीकरण निगम, पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑयल इंडिया, एनबीसीसी इंडिया, एनएलसी इंडिया तथा एसजेवीएन हैं। अनुवर्ती कोष पेशकश (एफएफओ) का निर्गम आकार 8 हजार करोड़ रुपये है। अधिक बोली आने पर 2 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त अभिदान रखने का विकल्प है।

इससे पहले सीपीएसई ईटीएफ की पांच किस्तों के जरिए सरकार 38,500 करोड़ रुपये जुटा चुकी है। पहली किस्त मार्च 2014 में आई थी। इसके जरिए 3 हजार करोड़ रुपये जुटाए गए। दूसरी किस्त (6,000 करोड़ रुपये) जनवरी 2017 में , तीसरी किस्त (2,500 करोड़ रुपये) मार्च 2017 में , चौथी (17,000 करोड़ रुपये) नवंबर 2018 में और पांचवीं किस्त ( 10,000 करोड़ रुपये) मार्च 2019 में आई। सरकार ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के जरिए 1.05 लाख करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। इससे पिछले वित्त वर्ष में यह लक्ष्य 85 हजार करोड़ रुपये था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CPSE ETF follow on offer oversubscribed 5 times gets bids worth Rs 40000 crore